Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraताज का दीदार कर अभिभूत हुए ब्रायन

ताज का दीदार कर अभिभूत हुए ब्रायन

दूसरी बार आए हैं ताजनगरी, दीदार के दौरान पच्चीकारी में दिखाई दिलचस्पी

दर्पण व्यू
आगरा। अपनी बल्लेबाजी से दुनियाभर को दीवाना बनाने वाले वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान ब्रायन लारा सोमवार को दुनिया के सात अजूबों में शुमार ताजमहल के दीवाने बने नजर आए। लारा सुबह ताजमहल पहुंचे और करीब पौने दो घंटे तक स्मारक को जीभर कर निहारा। उसके इतिहास में दिलचस्पी लेने के साथ उन्होंने पच्चीकारी में काफी दिलचस्पी दिखाई। उनके साथ उनकी महिला मित्र भी मौजूद रहीं। शुरूआत में उन्हें कोई पहचान नहीं पाया और जब वो ताजमहल मुख्य गुम्बद से वापस लौटे तो फैन्स ने उन्हें पहचान लिया और सेल्फी लेने लगे। उनके साथ आये सुरक्षाकर्मियों ने फैन्स को रोका और उन्हें अपने साथ बाहर ले गए। इससे पूर्व ब्रायन लारा 1984 में पहली बार ताजमहल देखने के लिए आ चुके हैं, लेकिन तब वह बहुत छोटे थे। ताजमहल के प्रति दीवानगी उनको फिर यहां ले आई। ब्रायन लारा इन दिनों आईपीएल की टीम सनराइजर्स हैदराबाद के बैटिंग कोच के रूप में आॅक्शन में आए हुए हैं। रविवार शाम को वह आगरा आ गए थे, लेकिन 6 बजे ताजमहल बंद हो जाने के कारण वह यहीं होटल में रुके। सोमवार सुबह गाइड रिजवान के साथ ताजमहल देखने के लिए पहुंचे।
वह सुबह करीब 6.45 बजे ताजमहल पहुंचे। उन्होंने यलो टीशर्ट, ब्लैक ट्राउजर के साथ ब्लैक कैप पहनी हुई थी। चेहरे पर मास्क लगा रखा था।
सुबह स्मारक में अधिक पर्यटक नहीं थे। उन्होंने आम पर्यटकों की तरह स्मारक में चहलकदमी की। सुरक्षाकर्मियों व पर्यटकों के आग्रह करने पर उन्होंने फोटो भी खिंचाए। स्मारक में वह 8.30 बजे तक रहे और ताजमहल की सुंदरता के मुरीद हो उठे। स्मारक में उन्होंने पच्चीकारी के काम और इतिहास को जानने में काफी दिलचस्पी दिखाई। गाइड रिजवान ने उन्हें ताजमहल के निर्माण के साथ मोहब्बत की निशानी का बारीकी से अवलोकन कराया है।

1984 में आए थे ताजमहल देखने
ब्रायन लारा ने बताया कि वर्ष 1984 में वह ताजमहल देखने आए थे। उस समय वह बहुत छोटे थे। इस बार ताजमहल काफी अच्छा लग रहा है। यह एक अजूबा है। रखरखाव पहले से भी बेहतर हो गया है।

विवार शाम आए थे आगरा
ब्रायन लारा रविवार शाम ही आगरा आ गए थे। उनके शहर में आने से पूर्व ताजमहल बंद हो गया था। लारा यहां से वापस जाने की सोच रहे थे, लेकिन ताजमहल के दीदार की ख्वाहिश ने उन्हें रुकने पर मजबूर कर दिया। उन्होंने कहा कि ताजमहल बंद होने के बाद वह वापस जाने की सोच रहे थे, लेकिन रात में रुकना अच्छा रहा।

परिवार के साथ दोबारा आने की इच्छा
ब्रायन लारा के साथ एक मित्र के थे। उन्होंने गाइड रिजवान से कहा कि वह अपने परिवार के साथ जल्द ही दोबारा ताजमहल देखने के लिए आएंगे। ताजमहल को देखकर वह अभिभूत थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments