Thursday, June 13, 2024
HomeUttar PradeshAgraहर रोज की कमाई एक आदेश ने गंवाई

हर रोज की कमाई एक आदेश ने गंवाई

बात तो हफ्ता वसूली की है, जरा सब्र कर सब ठीक होगा भाई

दर्पण व्यू संवाद
आगरा। सूबे के निजाम के आदेश के बाद पुलिसिया कारखासों के चेहरे उतर गए हैं, जिन चौराहों से अभी कुछ दिनों पहले से अवैध उगाही प्राप्त हो चुकी है उनसे कहें तो आखिर क्या कहें, लेकिन फिर भी पुलिस मुख्यमंत्री के आदेशों का हवाला ही दे रही है। कुछ डग्गामार वाहन संचालकों और पुलिस के बीच की कड़ी बन रहे लोगों को भी हां में हां मिलाने के लिए लगा दिया है। हर रोज की आने वाली मोटी कमाई पर अचानक ग्रहण जो लग गया यह तो किसी ने सोचा न था कि अचानक ही ऐसा हो जाएगा। अब अंदर की बात तो यह है कि कुछ लोग इस आदेश से इतने खिसियाए हुए हैं कि यह कहते फिर रहे हैं कि हमारी बंद हुई है तो उनकी भी तो बंद हो गई है।
परंतु कोई बात नहीं कुछ दिन का सब्र करो फिर से सब ठीक हो जाएगा। क्यों कि वेतन से तो घर चलता नहीं तो वसूली तो करनी ही पडेगी ना?

खनन माफियाओं का मददगार हंै प्रशिक्षु
बीते दिन थाना मलपुरा और सैंया क्षेत्र में एसडीएम साहिबा ने बड़ी कार्रवाई की है। अवैध खनन और ओवरलाडिंग पाए गए चार दर्जन से अधिक ट्रकों और डम्फरों को जब्त किया है। इस कार्रवाई ने एसडीएम साहिबा का खौफ उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि राजस्थान और मध्य प्रदेश में खनन माफियाओं के बीच चर्चा बन गया है। पुलिस और माफियाओं के बीच एक प्रशिक्षु बड़ा मददगार बना हुआ है। एक थाना क्षेत्र के पूर्व में रहे कोतवालों की तरह नए थानेदार को भी सेट करना चाहा लेकिन नए वाले साहब ने एक न मानी और एसडीएम व क्षेत्राधिकारी के साथ इस कार्रवाई में अहम भूमिका निभाई। माफियाओं के बीच प्रशिक्षु की बड़ी चर्चा है।

गोलमाल है भाई सब गोल-माल है
फिल्म ‘गोलमाल’ को तो आपने देखा ही होगा। ठीक ऐसा ही काफी दिनों से ‘आपका अपना साथी’ का स्लोगन देने वाले विभाग की है। एक तो पहले से बेहद घाटे में चल रहा है, और इस विभाग को कभी भी उभारने की कोई कोशिश नहीं की गई है। जो भी अधिकारी आए उन्होंने यहां से सिर्फ अपने निजी फायदें के बारे में सोचा और किया। वर्तमान में यहां के बड़े साहब आदेश देने में माहिर है, यह सभी आदेश इस प्रकार किए गए जैसे कोई नशे की हालत में बैनामा किया करते थे। जितने बार भी स्थानातंरण किए गए उतनी बार संशोधन किए गए। लोग भी न ईमानदार साहब पर पैसे लेने का आरोप लगाते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments