Thursday, June 13, 2024
HomeUttar PradeshAgraफेसबुक लाइव करने वाली शिक्षिका की बढ़ी मुश्किल

फेसबुक लाइव करने वाली शिक्षिका की बढ़ी मुश्किल

आगरा। सीडीओ ए. मनिकंडन से हुई नोकझोंक का फेसबुक लाइव करने वाली दिव्यांग शिक्षिका की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। इस मामले में निलंबन के बाद एक अभिभावक ने उन पर इंटरनेट मीडिया के माध्यम से बेटी को बदनाम करने की शिकायत की है। उनकी शिकायत पर बाल कल्याण समिति ने उन्हें नोटिस जारी कर व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने आदेश दिए हैं।
बाल कल्याण समिति ने यह नोटिस एक अभिभावक की शिकायत पर भेजा है, अभिभावक का आरोप है कि नगला अजीता स्थित कंपोजिट विद्यालय की शिक्षिका अलका पालीवाल स्कूल में बैठकर फेसबुक लाइव करती हैं। उन्होंने उनकी बेटी का नाम लेकर फेसबुक लाइव किया और झूठा आरोप लगाते हुए उसे सार्वजनिक रूप से बदनाम किया। इस कारण उनकी बेटी ने विद्यालय जाना छोड़ दिया है। पिता की शिकायत पर बाल कल्याण समिति ने दिव्यांग शिक्षिका को बाल न्यायालय में उपस्थित होने के आदेश जारी किए हैं।
बता दें कि उच्च प्राथमिक विद्यालय कन्या जगदीशपुरा और प्राचीन प्राथमिक विद्यालय जगदीशपुरा पहले जगदीशपुरा में किराए के भवन में संचालित था। उस दौरान भी दोनों विद्यालयों की शिक्षिकाओं में विवाद की स्थिति थी। दोनों एक दूसरे पर तरह-तरह के आरोप लगाती थीं।
खुले में संचालित विद्यालय की स्थिति देखकर जिला बेसिक शिक्षाधिकारी ने इसे नगला अजीता स्थित प्राथमिक विद्यालय में कंपोजिट के रूप में मर्ज कर दिया। इसके बाद भी हालात नहीं सुधरे। अब विद्यालय में इंचार्ज प्रधानाध्यापक के साथ दिव्यांग शिक्षिका और पांच शिक्षामित्र कार्यरत हैं। इनमें एक शिक्षामित्र दिव्यांग शिक्षिका के साथ है, जबकि शेष इंचार्ज प्रधानाध्यापक के साथ हैं।
शिक्षिकाओं के बीच गुटबाजी की स्थिति है, तो विद्यार्थी भी अलग-अलग गुटों में बंटे नजर आते हैं और अपनी पसंद की शिक्षिका के पक्ष और दूसरी शिक्षिका के विरोध में बयान देते नजर आते हैं। उन पर तमाम आरोप लगाने से भी नहीं चूकते।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments