Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraताजगंज में कारोबार बंदी की उल्टी गिनती शुरू हुई

ताजगंज में कारोबार बंदी की उल्टी गिनती शुरू हुई

17 अक्टूबर तक की प्राधिकरण ने तय कर रखी है समय सीमा
व्यापारियों में हड़कंप, 17 को ही दाखिल होगी उनकी याचिका

आगरा। ताजमहल के पांच सौ मीटर के दायरे में कारोबारी गतिविधियां बंद करने के मियाद खत्म होने जा रहा है। इसके लिए उल्टी गिनती शुरू हो गई है। अब से करीब 36 घंटे ही बचे हैं। इसके बाद आगरा विकास प्राधिकरण अपनी कार्रवाई शुरू कर देगा। इसे लेकर गंभीर स्थिति है। हजारों परिवार सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से प्रभावित हो रहे हैं। ताजमहल के 500 मीटर की परिधि में कारोबारी गतिविधियों पर रोक लगाने का फैसला 26 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया था। इसके बाद विकास प्राधिकरण ने सोमवार का सूरज निकलने के बाद यहां व्यावसायिक गतिविधियां बंद करवा देने का ऐलान किया था। इसी को लेकर ताजगंज की संघर्ष समिति की टीम दिल्ली में डटी हुई है। उनके साथ भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व विधायक केशो मेहरा भी वहीं मौजूद हैं। उन्हें उम्मीद है की सोमवार को उनकी याचिका दाखिल हो जाएगी। इस बीच व्यापारियों ने कोई प्रदर्शन नहीं करने का ऐलान कर दिया है। ताजमहल के आस-पास की दुकानों पर व्यापारियों ने विरोध स्वरूप काले झंडे लगाए हैं। एक तरफ जहां 17 अक्टूबर से प्राधिकरण दुकान खोलने वाले व्यापारियों की दुकानों को बलपूर्वक बंद कराने की रणनीति बना रहा है, दूसरी तरफ व्यापारी कोई रास्ता निकलने की बाट जोह रहे हैं। ताजगंज डेवलपमेंट फाउंडेशन के अब्राहिम जैदी के अनुसार ताजमहल के पास रहने वालों के लिए यह संकट की घड़ी है। प्रदर्शन करने से कोई फायदा नहीं होना है। बस केवल माहौल में दर्द बढ़ेगा, इसलिए सभी से कोई प्रदर्शन नहीं करते हुए न्यायालय से उम्मीद रखने को कहा गया है। ताजगंज के तहिरुदीन ने कहा, ‘इस समय किसी फिल्म के जैसा माहौल है। ऐसा लग रहा है की 2 दिन बाद मौत होनी है। यह बात हमें पता है। अब कोई चाहकर भी खुश नहीं रह सकता है। ताजमहल के आस-पास के 50 हजार परिवार इस समय परेशान हैं। सभी के आगे रोजी रोटी का संकट है। लोगों की 2 से 3 पीढियां इसी तरह व्यापार कर जीवन यापन कर रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments