Saturday, June 22, 2024
HomeUttar PradeshAgraधर्मांतरण के आरोप के बाद सिख समाज हुआ लामबंद

धर्मांतरण के आरोप के बाद सिख समाज हुआ लामबंद

शिकायतकर्ता के खिलाफ हो पूरी गंभीरता से जांच
षडयंत्र के तहत भड़का रहे हैं समाज की भावनाएं

आगरा। एक सिख परिवार पर जबरन धर्मांतरण कराने का आरोप लगने के बाद मामले की शिकायत मुख्यमंत्री जनसुनवाई और एसएसपी के यहां की गई है। इसकी जानकारी होने पर सिख समाज लामबंद हो गया है। कहा गया है कि इस तरह का आरोप बेबुनियाद है। मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर जूता व्यवसाई नगला भगत, धनौली (थाना मलपुरा) निवासी प्रताप सिंह पुत्र हरीचंद ने शिकायत की थी। इसमें कहा गया था कि उसके पड़ोसी उस पर धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बना रहे हैं और धमकी दे रहे हैं। उसने सुरक्षा और न्याय की गुहार लगाई थी। इस मामले को सिख के समाज ने गम्भीरता से लिया है और कड़ी निंदा की है। साथ ही कहा कि आरोप लगाने वाला व्यक्ति सिख धर्म की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रहा है। सारे आरोप बुनियाद हैं। समाज के लोगों ने विचार विमर्श के बाद पूरे प्रकरण श्री अकाल तख्त अमृतसर व दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को भी अवगत कराया है। सिख समाज सेवी एवं भाजपा ब्रज क्षेत्र अल्पसंख्यक मोर्चा के महामंत्री बंटी ग्रोवर ने कहा है कि वे इस प्ररकण को स्वयं मुख्यमंत्री से मुलाकात कर उनके संज्ञान में लाएंगे। साथ ही राष्ट्रीय एवं उत्तर प्रदेश अल्पसंख्यक आयोग के समक्ष भी रखेंगे। कोई भी व्यक्ति यदि धार्मिक भावना भड़काकर का माहौल खराब करना चाहेगा, उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। गुरुद्वारा गुरु के ताल के मीडिया प्रभारी मास्टर गुरनाम सिंह का कहना है कि उनके परिवार पर लगे आरोप बेबुनियाद हैं। शिकायतकर्ता की गहन जांच कराई जाए। गांव में पिछले 100 वर्ष एक भी मामला ऐसा नहीं आया। उनके पिताजी सरदार लक्ष्मण सिंह व अन्य लोगों के ऊपर इस तरीके का झूठे आरोप लगाना, सीधे सिख समाज के ऊपर आरोप लगाने जैसा है। इस प्रकरण से पूरे समुदाय को बदनाम करने व आपसी भाई चारे में नफरत फैलाने की कोशिश की गई है। उन्होंने इस तरह की शिकायत करने वाले व्यक्ति प्रताप सिंह पुत्र हरिचंद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments