Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraपंजाब से नई खेप आने से होगी आलू की अकड़ ढीली

पंजाब से नई खेप आने से होगी आलू की अकड़ ढीली

आगरा। आलू की अकड़ धीमी पड़ सकती है। इसकी वजह है कि पंजाब से नए आलू की खेप आनी शुरू हो गई है। इस वजह से आलू के दामों में गिरावट हो सकती है। इधर शीतगृहों से आलू की निकासी रफ्तार नहीं पकड़ रही है, जिस कारण एक बार फिर भंडारित फसल के सामने संकट खड़ा होने की आशंका है। बोवाई के लिए बीज निकासी लगभग समाप्त हो चुकी है। अब पंजाब की फसल भी सिकंदरा मंडी तक आ गई है। अभी शुरूआत है, इसलिए दाम ऊंचे हैं। जल्द ही बंपर आवक होगी और दाम भी घटेंगे, जिससे स्थानीय के साथ ही दिल्ली मंडी तक भी भंडारित आलू की मांग घटेगी। बता दें कि आगरा में 72 हजार हेक्टेअर में आलू का उत्पादन होता है और प्रतिदिन 460 से 500 ट्रक, आलू लेकर दिल्ली, महाराष्ट्र सहित दूसरी मंडियों में जाते हैं। दूसरे राज्यों की फसल मांग को प्रभावित करती हैं। अब पंजाब की फसल बाजार में आने से फिर निकासी पर असर पड़ेगा। वहीं फरुर्खाबाद, कन्नौज सहित आस-पास के क्षेत्र में होने वाली आलू की बड़ी फसल इस बार बारिश से प्रभावित हुई है। इसलिए इन क्षेत्र से इस बार प्रतिस्पर्धा अधिक नहीं है। कुल भंडारण में से बोवाई में अभी दो से तीन फीसद आलू और लग जाएगा, लेकिन 25 फीसद आलू अभी संकट बना हुआ है। सिकंदरा फल एवं सब्जी मंडी में प्रतिदिन ढाई हजार कुंतल आलू की खपत होती है। थोक में भाव 15 से 22 रुपये प्रति किलोग्राम गुणवत्ता के आधार पर बने हुए हैं। वहीं फुटकर बाजार में 25 से 30 रुपये प्रति किलोग्राम तक आलू का भाव है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments