Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraसौ करोड़ सिरेंडर किया पूर्व विधायक भुट्टों ने

सौ करोड़ सिरेंडर किया पूर्व विधायक भुट्टों ने

इसरार के खाते में थे करोड़ों, पर उसे कुछ पता ही नहीं

मंटोला बस्ती में रहने वाले व्यक्ति के यहां पहुंची आईटी टीम
हर कोई चौंक गया, भुट्टो की एक कंपनी का कर्मचारी है वह

आगरा। मंटोला के रहने वाले इसरार को पता ही नहीं था कि वह करोड़पति है। उसके खाते से करोड़ों का लेनदेन होता है। बस्ती में रहने वाले इस व्यक्ति की हैसियत करोड़ों की है, यह जानकर हर कोई हैरान रह गया।
दरअसल इसरार को तलाशते हुए आयकर विभाग की टीम मंटोला पहुंची थी। जैसे ही इसरार से पूछताछ शुरू हुई, आसपास के लोग जमा हो गए। वे विरोध कर रहे थे। जब टीम ने खाते में करोड़ों का लेनदेन होने के सबूत दिखाए तो इसरार खुद हैरान रह गया। दरअसल वह पूर्व बसपा विधायक जुल्फिकार अहमद भुट्टो की एक कंपनी का कर्मचारी है। उसके नाम से खाते का संचालन कंपनी संबंधी लेनदेन के लिए होता है। पूर्व विधायक के ठिकाने देश भर में फैले हुए हैं। ऐसे ही 35 ठिकानों पर आयकर विभाग की कार्रवाई चली। करीब 85 घंटे चली कार्रवाई के बाद सौ करोड़ रुपए सिरेंडर किए गए हैं। यह अब तक सिरेंडर की गई सबसे बड़ी धनराशि है। भुट्टो की कंपनियों का मीट का कारोबार दुनिया भर के 50 देशों में फैला हुआ है। मुनाफा कम दिखाकर बड़े पैमाने पर टैक्स में हेरफेर की जा रही थी। इनकम टैक्स की टीमों को कई वित्तीय अनियमितताएं मिली थीं। भुट्टो के एचएमए ग्रुप फ्रोजन मीट के कारोबार में देश में तीसरे नंबर का संस्थान माना जाता है। कुल टर्नओवर दो हजार करोड़ रुपए से भी अधिक का है। जांच में सामने आया था कि इतना टर्नओवर होने के बाद भी ग्रुप का मुनाफा कम था।

करोड़पति हो सकते हैं कई और कर्मचारी
आगरा। एचएमए ग्रुप की जांच कर रही टीम के सदस्यों को अंदेशा है कि इसरार की तरह अन्य तमाम कर्मचारी और हो सकते हैं, जो करोड़पति हैं पर उन्हें पता ही नहीं।
दरअसल अशिक्षित कर्मचारियों के नाम पर करोड़ों का लेनदेन उनके खातों से होता था। उनके नाम पर बैंक एकाउंट खुलवाए हुए थे। इन खातों में जो भी धनराशि ट्रांसफर हुई है, उसे नगद में निकल लिया जाता था।

मजबूत राजनीतिक पकड़
आगरा। पूर्व विधायक जुल्फिकार अहमद भुट्टो ने 2007 में छावनी विधानसभा से बसपा के टिकट पर चुनाव जीता था। 2007 से 2012 तक प्रदेश में बसपा की सरकार रही। मायावती मुख्यमंत्री रहीं। भुट्टो को बसपा सुप्रीमो का काफी करीबी माना जाता था। बसपा के बड़े मुस्लिम नेता नसीमउद्दीन सिद्दीकी से भुट्टो की बहुत नजदीकी रही। भुट्टो के विधायक बनने के बाद उसका फ्रोजन मीट का कारोबार तेजी से बढ़ा। आगरा में छलेसर पर स्लाटर हाउस के बाद अलीगढ़ में भी स्लाटर हाउस खोला था। बसपा के पांच साल के कार्यकाल में भुट्टो ने प्रदेश में कई जगह अपने काम को विस्तार दिया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments