Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraबैंक से लोन के फर्जीवाड़े में एक अभियुक्त गिरफ्तार

बैंक से लोन के फर्जीवाड़े में एक अभियुक्त गिरफ्तार

गड़बड़झाले में बैंक के कर्मचारियों की भी मिलीभगत
कार लोन के नाम पर कर दी 60 लाख की हेराफेरी

आगरा। छत्ता थाना क्षेत्र में स्थित बैंक से 60 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने वाले गिरोह के सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार लिया। आरोपित बैंककर्मियों की मिलीभगत से गाड़़ी के लिए ऋृण स्वीकृत कराते थे। गाड़ी नहीं खरीदते थे। उसके फर्जी प्रपत्र बैंक में रख देते थे। रकम हड़प लेते थे। एसपी सिटी विकास कुमार ने बताया कि छत्ता पुलिस ने विवेक उपाध्याय नामक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। वह दयालबाग की इंद्रधनुषस कालोनी का रहने वाला है। वर्तमान में शास्त्रीपुरम रह रहा था। उसके विरुद्ध छत्ता थाने में अभियोग दर्ज है। आरोपित के भाई आलोक की मृत्यु हो चुकी है। पुलिस पूछताछ में विवेक ने बताया कि उसने भाई के साथ मिलकर लोगों का ऋण कराया था। जिसमें वह एक दूसरे के जमानती बन जाते थे। उन्होंने शोभित तोमर को ऋण दिलाया था। उसके जमानती बन गए। उन्होंने ऋण लिया तो शोभित उनका जमानती बन गया। इस तरह उन्होंने आठ लोगों का कार ऋण स्वीकृत कराया था। ऋण स्वीकृत होने के बाद वह धनराशि को फर्जी कंपनी के खाते में स्थानांतिरत कराते थे। जिसके बाद कार खरीदने के फर्जी प्रपत्र तैयार करते। उन्हें बैंक में रख देते थे। ऋण की रकम को वह आपस में बांट लेते थे। आरोपित ने बताया कि कार की किस्त जमा नहीं करने पर बैंक रिकवरी निकालती थी। कार खरीदी नहीं जाती, इसलिए वह बैक को नहीं मिलती थी। पुलिस के अनुसार आरोपित ने पूछताछ में बताया कि इस खेल में बैंक कर्मियों की मिलीभगत रहती थी। प्रभारी निरीक्षक छत्ता शेर सिंह ने बताया कि बैंक से ऋण के नाम पर धोखाधड़ी के सात अभियोग दर्ज हैं, सभी कार फाइनेंस से संबंधित हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments