Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraगायत्री बिल्डर्स के निदेशक सहित पांच पर मुकदमा

गायत्री बिल्डर्स के निदेशक सहित पांच पर मुकदमा

वृद्धा ने प्लॉट पर कब्जे और धमकाने का आरोप लगाया
पुलिस ने सुनवाई नहीं की, कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज

आगरा। कोर्ट के आदेश पर गायत्री बिल्डर्स के निदेशक हरिओम दीक्षित सहित पांच नामजद और तीन अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी, कूटरचित दस्तावेज तैयार करने सहित अन्य धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। दिल्ली की रहने वाली 75 वर्षीय महिला ने प्लॉट पर कब्जे और धमकाने का आरोप लगाया है। पुलिस का कहना है कि विवेचना की जा रही है। साक्ष्य संकलन के बाद कार्रवाई की जाएगी। मामले में कमला नगर निवासी राजकुमारी ने मुकदमा दर्ज कराया है। वो इस समय दिल्ली में रह रही हैं। मुकदमे में गायत्री डेवलपवेल प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक हरिओम दीक्षित, कल्याणी दीक्षित, देवेंद्र दीक्षित, मनहर दीक्षित, चंद्रशेखर शर्मा नामजद और 2-3 अज्ञात हैं। राजकुमारी ने कोर्ट में प्रार्थनापत्र दिया था। इसमें आरोप लगाया कि उन्होंने 31 मार्च 2003 को रामजी सहकारी आवास समिति लिमिटेड से 350 वर्ग गज का कामर्शियल प्लॉट विमल विहार हाउसिंग स्कीम, मौजा सिकंदरा में बैनामा कर खरीदा था। उन्होंने आरोप लगाया कि बीमार होने की वजह से वह प्लॉट की देखरेख नहीं कर पा रही थीं। 19 जनवरी 2020 को वो प्लॉट पर आई थीं। देखा कि प्लॉट की दीवार तोड़कर गायत्री बिल्डर ने कब्जा कर लिया है। इसके फर्जी दस्तावेज तैयार किए हैं। 9 फरवरी 2020 को वो फिर से प्लॉट को देखने और नापजोख करने गईं तो निदेशक और अन्य लोग आ गए। उन्होंने अभद्रता की। विरोध पर हरिओम दीक्षित ने तमंचा निकालकर धमकाया। पुलिस से शिकायत पर सुनवाई नहीं हुई। थाना सिकंदरा के प्रभारी निरीक्षक आनंद कुमार शाही का कहना है कि विवेचना की जा रही है। साक्ष्य संकलन किया जाएगा। बिल्डर के खिलाफ पूर्व में भी मुकदमे दर्ज हो चुके हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments