Monday, June 24, 2024
HomeUttar PradeshAgraवीरांगना भीमाबाई होलकर को जयंती पर याद किया

वीरांगना भीमाबाई होलकर को जयंती पर याद किया

आगरा। समानांतर संस्थान के तत्वावधान में राजवंशीय प्रथम वीरांगना भीमाबाई होलकर की 232वीं जयंती पर उन्हें याद किया गया। समारोह में अध्यक्षता करते हुए डॉ. शशि गुप्ता ने कहा कि वर्ष 1817 में महीदपुर के रणक्षेत्र में अंग्रेजों की सुसज्जित सेना को भीमा बाई ने दांतों चने चवबा दिए थे। मुख्य अतिथि सुशील सरित ने बताया कि मिलन जी की कालजयी कृति भीमा बाई में उनके कृतित्व को प्रस्तुत किया गया है। यदि इस पर फिल्म बनी तो उसमें किरदार को निभाने की उनकी इच्छा है। आकाशवाणी के कार्यकारी निदेशक नीरज जैन ने संदेश भिजवाया कि मिलन जी रचित भीमा बाई नाटक आकाशवाणी केंद्र से प्रथम प्रसारित नाटक है। विशिष्ट अतिथि पदमावती ने भीमा बाई पर सस्वर रचना पाठ किया। इन्दल सिंह ‘इन्दु’ ने भीमाबाई बयालीस का पाठ किया। भीमा बाई के लेखक डॉ.राजेन्द्र मिलन ने बताया कि इस शोधपरक विविध विधाओं में सृजित साहित्यिक अवदान से जो यश कीर्ति प्राप्त हुई है, वह उनके जीवन की थाती बन चुकी है।
आमंत्रित कवियों में सर्वश्री कवि डॉ.यशोयश, प्रेम राजावत, विनय बंसल, इंदल सिंह इंदु, डॉ.असीम आनंद, रजनी सिंह, प्रकाश गुप्ता बेबाक, चन्द्रशेखर शर्मा, सोनम कुशवाहा, प्रवेन्द्र कुमार व्यास आदि ने स्व रचित एवं भीमा बाई कृति से कुछ रचनाओं का सस्वर पाठ कर उपस्थित प्रबुद्ध श्रोताओं को एतिहासिक यथार्थ से अवगत कराया। भूप सिंह धनगर ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments