Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraस्वास्थ्य विभाग का पुरुष नसबंदी पखवाड़ा शुरू

स्वास्थ्य विभाग का पुरुष नसबंदी पखवाड़ा शुरू

ऑपरेशन कराने वाले पुरुष लाभार्थी को मिलेंगे 3000
महिला नसबंदी की तुलना में यह रहती अधिक सुरक्षित

आगरा। स्वास्थ्य विभाग का पुरुष नसबंदी पखवाड़ा आज से शुरू हो गया है। यह 4 दिसम्बर तक चलेगा। पखवाड़े में परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत ‘पुरुष भी निभायेंगे जिम्मेदारी’ थीम पर पुरुषों को नसबंदी कराने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि दंपत्तियों में प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार लने के लिए पुरुषों की सहभागिता जरूरी है। प्रजनन स्वास्थ्य के दृष्टिगत पुरुष नसबंदी एक मामूली शल्य प्रक्रिया है। महिला नसबंदी की तुलना में अपेक्षाकृत अधिक सुरक्षित है। पुरुष नसबंदी के लिए न्यूनतम संसाधनों एवं बुनियादी ढांचे की आवश्यकता होती है। परिवार नियोजन के नोडल अधिकारी डॉ. पीके शर्मा ने बताया कि पुरुष नसबंदी पखवाड़े को दो चरणों में मनाया जाएगा। प्रथम चरण में मोबिलाइजेशन फेज आज से 27 नवंबर तक, द्वितीय चरण में सेवा प्रदायगी फेज 28 नवंबर से 4 दिसंबर तक पुरुषों की भागीदारी से संबंधित गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। एनएसवी विधि के द्वारा किए जाने वाली पुरुष नसबंदी में न तो चीरा लगता है, न टांका लगता है और न ही पुरुष की पौरुष क्षमता में कमी या कमजोरी होती है। यह सरल ऑपरेशन है और मात्र 10 मिनट में ही यह कर दिया जाता है। ऑपरेशन के 2 दिनों के बाद से लाभार्थी सामान्य कार्य और 7 दिनों के बाद भारी काम कर सकते हैं। नोडल अधिकारी ने बताया कि महिलाओं की तुलना में पुरुषों को दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि अधिक रखी गई है। नसबंदी करवाने पर पुरुष लाभार्थी को 3000 रुपए मिलते हैं। वहीं प्रेरक को प्रति लाभार्थी 400 रुपए मिलते हैं। महिला बंध्याकरण करवाने पर महिला लाभार्थी को 2000 रुपए और प्रेरक को 300 रुपए की प्रोत्साहन राशि मिलती है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments