Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraमेट्रो : भूमिगत निर्माण का ताजगंज में विरोध

मेट्रो : भूमिगत निर्माण का ताजगंज में विरोध

क्षेत्रीय लोगों को भारी नुकसान होने की आशंका
दोनों ओर दीवार नहीं लगाने की उठाई गई मांग

आगरा। ताजगंज में मेट्रो के लिए भूमिगत निर्माण शुरू हो गया है। लेकिन क्षेत्रीय लोग इसका विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि भूमिगत मेट्रो का रूट बदला जाए। प्रोजेक्ट डायरेक्टर अरविंद कुमार राय ने क्षेत्रीय लोगों की बाद उच्चाधिकारियों तक पहुंचाने का आश्वासन दिया है। पुरानी मंडी चौराहे से ताज व्यू तिराहे के बीच मेट्रो के निर्माण कार्य और भूमिगत कार्य शुरू हो रहा है। ताजगंज के क्षेत्रीय लोगों ने इसका विरोध किया। शनिवार दोपहर यूपी मेट्रो रले कारपोरेशन के प्रोजेक्ट डायरेक्टर अरविंद कुमार राय जब स्थलीय निरीक्षण के लिए अग्रसेन तिराहा पहुंचे तो स्थानीय दुकानदारों और व्यापारियों ने मेट्रो के निर्माण कार्य का विरोध किया। उन्होंने इसके लिए पीएसी मैदान से पुरानी मंडी के बीच भूमिगत लाइन बिछाने का सुझाव दिया, जिससे लाइन की दूरी केवल 50 मीटर होगी, जबकि अभी यह दूरी 500 मीटर है। पूर्व विधायक व भाजपा नेता केशो मेहरा ने प्रोजेक्ट डायरेक्टर अरविंद राय से कहा कि ताज व्यू तिराहे से पुरानी मंडी तक निर्माण कार्य के बाद बहुत कम जगह है जिससे जाम लग रहा है। दोनों ओर दीवार लगाने से ताजगंज के व्यापार का नुकसान होगा। इसी रोड पर स्कूल, अस्पताल, होटल, रेस्टोरेंट, शोरूम हैं। अगर पीएसी मैदान से मेट्रो लाइन बिछाई जाती है तो 500 करोड़ रुपये की राशि भी बचेगी। मेट्रो के प्रोजेक्ट डायरेक्टर अरविंद राय ने दुकानदारों को आश्वस्त किया कि भूमिगत लाइन कहां जाएगी, इसकी जानकारी उन्हें दी जाएगी। लोगों की बात वरिष्ठ अधिकारियों को पहुंचा देंगे। अनुमति मिली तो भूमिगत मेट्रो के रूट को बदल देंगे। क्षेत्रीय लोगों ने सबमर्सिबल पंप की बोरिंग खराब होने और बेसमेंट आदि को नुकसान की आशंका जताई। इस दौरान दिलीप चौहान, पार्षद शोभाराम राठौर, अमीर सिंह, सतीश शर्मा, देवेंद्र सिंह, ज्ञान सिंह, अजयपाल सिंह, डा. केएस वर्मा, डा. सीपी सिंह, रमेश बघेल आदि मौजूद रहे।
प्रोजेक्ट डायरेक्टर अरविंद राय के अनुसार मेट्रो कॉरिडोर का डिजाइन विशेषज्ञों द्वारा बनाया है। ताज व्यू से एप्रोच भूमिगत सेक्शन के लिए है, किसी और रास्ते से एप्रोच स्लोप नहीं बन सकता। लोगों ने अपनी बात रखी थी, उन्हें वस्तुस्थिति से अवगत करा दिया है। मेट्रो से स्थानीय व्यावसायिक गतिविधियां प्रभावित नहीं होंगी बल्कि लोगों को फायदा होगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments