Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraमनाया श्रीगुरु तेग बहादुर साहिब का शहीदी पर्व

मनाया श्रीगुरु तेग बहादुर साहिब का शहीदी पर्व

आगरा। गुरुद्वारा गुरु का बाग, मधुनगर में सोमवार को सिख धर्म के 9वें गुरु श्रीगुरु तेग बहादुर साहिब का शहीदी पर्व श्रद्धाभाव से मनाया गया। संगत ने श्रद्धा सुमन अर्पित कर गुरु के बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया।
श्रीगुरु तेग बहादुर की शहादत 11 नवंबर 1675 में औरंगजेब के कुकर्म के अनुसार हिंदू धर्म की रक्षा के लिए चांदनी चौक दिल्ली में हुई थी। उन्होंने विश्व इतिहास में धर्म और मानवीय मूल्यों, आदर्श तथा सिद्धांत की रक्षा की। गुरु साहब ने कहा था कि धर्म के लिए सिर कटा सकते हैं लेकिन केश नहीं। उनका यह महावाक्य आज हम सभी के लिए प्रेरणास्रोत है। गुरुद्वारा साहिब में आज सुबह अमृतमई कीर्तन और सत्संग में उनका भावपूर्ण स्मरण किया गया। श्री सुखमनी साहिब का पाठ के बाद श्लोक महल्ला नौवें का पाठ किया। इस मौके पर गुरु गोविंद सिंह द्वारा रचित दसम ग्रंथ के चंडी चरित में उल्लखित शबद ‘देह शिवा बर मोहे ईहे, शुभ कर्मन ते कभु न टरूं, न डरौ अरि सौं जब जाय लड़ो, निश्चय कर अपनी जीत करौं…।’ का गायन किया गया। भाई मेजर सिंह,भाई हरप्रीत सिंह ,भाई हरपाल सिंह ने कीर्तन किया।
प्रधान अरजिंदर पाल सिंह ने संगत का अभार प्रकट किया। ग्रंथी रविंद्र सिंह द्वारा अरदास हुकमनामा के बाद धर्म प्रेमियों में गुरु का लंगर वितरण किया गया। सरदार हरपाल सिंह, गुरविंदर सिंह सोबती, गुरु सेवक श्याम भोजवानी, जयमल सिंह, सरदार नरेंद्र सिंह, राजवीर सिंहआदि उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments