Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgra150 शिल्पकारों ने सजाया 15 फुट ऊंचा क्रिसमस ट्री

150 शिल्पकारों ने सजाया 15 फुट ऊंचा क्रिसमस ट्री

– पर्यटन विभाग कर रहा ‘लाइट आउट ऑफ डार्कनेस’ का आयोजन

आगरा। ‘क्रिसमस ट्री लाइटिंग सैरेमनी’ का शुभारंभ हो गया है। क्रिसमस के मौके पर पर्यटन विभाग और होटल प्रबंधन द्वारा संयुक्त रूप से ‘लाइट आउट ऑफ डार्कनेस’ का आयोजन किया जा रहा है। क्रिसमस त्यौहार पर होटल की लॉबी में 15 फुट ऊंचे क्रिसमस ट्री पर उत्तर प्रदेश प्रो पूअर पर्यटन विकास परियोजना से जुडेÞ करीब 150 शिल्पकारों के शिल्प उत्पादों को सजाया गया है। यह सभी शिल्पकार ताजगंज के पुराने मोहल्लों में रहते हैं, जो कई पीढ़ियों से पच्चीकारी, जरदोजी एवं गलीचा बनाने का काम करते हैं। संयुक्त निदेशक, पर्यटन अविनाश चन्द्र मिश्रा ने बताया है कि यह कार्यक्रम 25 दिसम्बर क्रिसमस दिवस तक चलेगा। यहां से जो भी उत्पाद पर्यटकों द्वारा खरीदे जायेंगे, उसका सीधा लाभ शिल्पकार को मिलेगा। यह आयोजन फतेहाबाद रोड स्थित होटल डबल ट्री हिल्टन में किया गया। क्रिसमस ट्री को शिल्पकारों द्वारा 150 उत्पादों से सजाया गया है। इस अवसर पर पर्यटन सूचना अधिकारी विशाल श्रीवास्तव, अजय कुमार गुप्ता, डा. राजेश कुमार परियोजना प्रबन्धक आदि उपस्थित रहे। संयुक्त निदेशक श्री मिश्रा ने बताया कि पर्यटन विभाग के माध्यम से आगरा सहित चार जनपदों में उत्तर प्रदेश प्रो पूअर पर्यटन विकास परियोजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसका उद्देश्य बुनियादी ढांचे के विकास के साथ आगरा क्षेत्र के हस्तशिल्प को बढ़ावा देना एवं शिल्पकारों की आय वृद्धि करना है। शिल्पकारों को आधुनिक तकनीक एवं डिजाइन्स पर अनुभवी विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षित किया जा रहा है। उत्पाद ब्रिकी को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय बाजार से जोड़ने के साथ शिल्पकारों को सरकार द्वारा निर्मित जेम पोर्टल पर भी पंजीकृत किया जा रहा है, जिससे शिल्पकारों द्वारा बनाये जा रहे उत्पादों की सीधी पहुंच उनके ग्राहकों तक हो।

शिल्पियों को मिल रहे पहचान पत्र
हस्तशिल्प विभाग, भारत सरकार के माध्यम से शिल्पकारों का पंजीकरण कर पहचान पत्र भी वितरित किए जा रहे हैं। इससे उन्हें विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सकेगा। शिल्पकारों के आर्थिक विकास एवं सामाजिक सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, ओडीओपी योजना, स्मार्ट सिटी मिशन एवं दीनदयाल अंत्योदय राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन आदि जोड़ा जा रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments