Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraमहिला चिकित्सक उत्पीड़न की चार अभियुक्त महिलाएं नहीं पकड़ी गईं

महिला चिकित्सक उत्पीड़न की चार अभियुक्त महिलाएं नहीं पकड़ी गईं

पांच अभियुक्तों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल
सरगना सुधीर फतेहगढ़ जेल से फोन पर धमकाता था

आगरा। महिला डाक्टर के अश्लील फोटो वायरल करने, ब्लैकमेल और पांच लाख की चौथ मांगने के मामले में चार महिलाएं भी लिप्त थीं। उनके खिलाफ पुलिस ने पर्याप्त सबूत जुटाए हैं। कोर्ट में पांच लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है। यह मामला फतेहगढ़ केंद्रीय जेल में बंद माफिया सुधीर सिंह से जुड़ा हुआ है। मामला शाहगंज क्षेत्र का है। थाने में महिला चिकित्सक ने 16 मार्च को मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ आरोप पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया। महिला के कुछ फोटो वायरल करने के बाद उन्होंने मामले की शिकायत की। शाहगंज के ऋृषि मार्ग निवासी महेश, फतेहगढ़ केंद्रीय कारागार में बंद उसके भाई सुधीर समेत सात लोगों को आरोपित बनाया था। महिला चिकित्सक का आरोप था कि महेश और उसके परिवार की महिलाओं ने पार्टी के बहाने घर पर बुलाकर उसे बेहोश कर दिया। जिसके बाद उनके आपत्तिजनक फोटो खींच लिए। आरोपितों ने उक्त फोटो सार्वजनिक करने की धमकी दी। ब्लैकमेल कर पांच लाख रुपये मांगे। रुपये नहीं देने पर आरोपितों ने उनके फोटो वायरल कर दिए। उन्हें जेल में बंद सुधीर फोन पर धमकी देता था। दहशत के चलते महिला चिकित्सक राजस्थान चली गई थीं। पुलिस ने आरोपित महेश को जेल भेजा था। प्रभारी निरीक्षक जसवीर सिंह सिरोही के अनुसार महेश कुमार की पत्नी वंदना, साली सुमन, रेनू और बहन ममता सिंह के खिलाफ भी साक्ष्य मिले हैं। उनके खिलाफ भी कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की गई है। इस मामले में किरन देवी की नामजदगी गलत पाई गई थी। सरगना सुधीर सिंह फतेहगढ़ केंद्रीय कारागार में निरुद्ध है। उसका बी वारंट जेल में दाखिल किया गया था। वह आगरा न्यायालय में तलब होकर नहीं आया। जिसके लिए जेल प्रशासन को रिमांइडर भेजे गए थे। उसके खिलाफ विवेचना प्रचलित हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments