Saturday, June 22, 2024
HomeUttar PradeshAgraबीजेपी की जीत में रोड़ा अटका सकती है आप, एमसीडी में...

बीजेपी की जीत में रोड़ा अटका सकती है आप, एमसीडी में मिली जीत के बाद हौंसले बुलंद

सडक़ों के खस्ताहाल और दिल्ली के मॉडल पर मांगेगी वोट
आवेदकों की लगी है कतार, कई बड़े नेता हैं पार्टी के संपर्क में

आगरा। आरक्षण सूची के जारी होने के बाद राजनैतिक दलों ने कार्यालयों में सरगर्मियां बढ़ गई हैं। सत्तारुढ़ दल को पटखनी देने के लिए तमाम विपक्षी दलों ने रणनीति तेज कर दी है। मिनी सरकार में अपना वर्चश्व तलाश रही आम आदमी पार्टी भी पीछे नहीं है। दिल्ली एमसीडी चुनाव की जीत के बाद पार्टी के हौंसले बुलंद हैं। यही वजह है कि निकाय चुनाव में आप ने सियासत की बिसात बिछा दी है। कुछ लोग आप पार्टी को बीजेपी का विकल्प समझ रहे हैं तो कुछ कहते हैं कि आम आदमी बीजेपी के नुकसान पहुंचा सकती है। अगर पिछले निकाय चुनाव के आंकड़ों पर गौर करें तो आप पार्टी कुछ खास वोट हासिल नहीं कर सकी थी। मगर एमसीडी एमसीडी के चुनाव में मिली जीत ने पार्टी कार्यकर्ताओं में जोश भर दिया है।

तीन दशकों से ‘आगरा की सरकार’ पर बीजेपी का कब्जा रहा है। 1989 में पहली बार आगरा में हुए नगर निगम के चुनाव में बीजेपी के रमेश कांत लवानियां को जीत मिली थी। इसके बाद 1995, 2000, 2006, 2012, 2017 में लगातार छह बार बीजेपी ने बाजी मारी। वर्ष 2022 के निकाय चुनाव जनवरी में प्रस्तावित हैं। सभी राजनैतिक दलों की नजरें मेयर पद पर टिकी हैं। बीजेपी को पछाडऩे के लिए सियासत की बिसातें बिछाई जा रही हैं। इनमें आम आदमी पार्टी भी कमतर साबित नहीं हो रही हैं। आप पार्टी के नेता कपिल वाजपेई का कहना है कि बीजेपी को मात देने के लिए वे अपनी रणनीति पर काम कर रहे हैं। उनके पास कई बड़े उम्मीदवारों के आवेदन आ चुके हैं। जिनपर विचार किया जा रहा है।

विकल्प बनने की तैयारी में आप

दिल्ली में अपने विकास कार्यों को लेकर चर्चा में आयी आम आदमी पार्टी आगरा में विकास के मुद्दों पर निकाय चुनाव लड़ेगी। पार्टी के महानगर अध्यक्ष दिलीप बंसल का कहना है कि आगरा शहर में समस्याओं अंबार है। शहर की सीवर, ड्रेनेज सिस्टम, सडक़ों के खस्ताहाल, सरकारी स्कूलों के हालात किसी से छिपे नहीं हैं। दिल्ली के विकास मॉडल के आधार पर जनता से वोट मांगेंगे।

केजरीवाल भी आएंगे आगरा
बेशक उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी का जनाधार नहीं है, लेकिन दिल्ली और हरियाणा में अपनी सरकार बनाने के बाद उत्तर प्रदेश पर आप पार्टी की नजर है। निकाय चुनाव में मेयर सीट पर जीत का दंभ भरने के लिए दिल्ली के बड़े नेता और सीएम अरविंद केजरीवाल भी आगरा में सभा करेंगे। महानगर अध्यक्ष दिलीप बंसल का कहना है कि इस संबंध में पार्टी के बड़े नेताओं से चर्चाएं हो रही हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments