Thursday, June 13, 2024
HomeUttar PradeshAgra1058 एकड़ में आगरा में लगेंगी सैकड़ों इंडस्ट्रीज, हजारों लोगों को मिलेगा...

1058 एकड़ में आगरा में लगेंगी सैकड़ों इंडस्ट्रीज, हजारों लोगों को मिलेगा रोजगार, औद्योगिक गलियारे से जुड़ेगा शहर

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे टोल प्लाजा इनर रिंग रोड के पास बड़ी संख्या में इंडस्ट्रीज डेवलेपमेंट के लिए यूपीसीडा की कवायद तेज हो गई है। एपेक्स मॉनिटरिंग कमेटी में यूपीसीडा के सीईओ मयूर माहेश्वरी वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से चर्चा कर चुके हैं। सुप्रीम कोर्ट से हरीझंडी मिलते ही आगरा में औद्योगिक विकास शुरू हो जाएंगे।

सुनील साकेत
आगरा। उप्र राज्य औद्योगिक विकास निगम (यूपीसीडा) द्वारा आगरा में १०५८ एकड़ भूमि पर सैकड़ों इंडस्ट्रीज लगेंगी। इससे लिए यूपीसीडा से लगभग सभी विभागों से एनओसी भी ले ली है। आगरा डेवलेपमंट ऑथौरिटी (एडीए) से ५८५ एकड़ भूमि खरीदी है। इसके एवज में एडीए को यूपीसीडा ने ३५९ करोड़ की धनराशि दे दी है। शुक्रवार को यूपीसीडा के अधिकारी प्राधिकरण में जमीन की रजिस्ट्री करवाने के लिए आए थे। यूपीसीडा के अधिकारियों का कहना है कि विभिन्न प्रकार की १०० से अधिक इंडस्ट्रीज आगरा में लगेंगी। जिससे हजारों लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

बेरोजगारों के लिए यह खबर खुशखबरी लेकर आयी है कि आगरा में अब नौकरियों का टोटा नहीं पड़ेगा। हजारों बेरोजगारों को रोजगार मिलने के अवसर खुलने वाले हैं। आगरा लखनऊ एक्सप्रेस- वे टोल प्लाजा इनर रिंग रोड के पास यूपीसीडा ने एडीए से करीब ५८५ एकड़ (२३२ हेक्टेअर) भूमि खरीदी है। इसका भुगतान भी किया जा चुका है। यूपीसीडा के अधिकारियों ने बताया कि उनके पास ४७३ एकड़ भूमि पहले से ही थी। कुल १०५८ एकड़ भूमि पर टैक्सटाइल, आईटी, लैदर, फूड प्रोसेसिंग, समेत सैकड़ों इंस्डस्ट्रीज लगेंगी। यूपीसीडा के अधिकारियों ने बताया कि इंडस्ट्रीज शुरू करने के लिए विभाग ने एनजीटी, टीटीजेड, वन विभाग समेत तमाम विभागों से एनओसी ले ली है। इस संबंध में मंडलायुक्त अमित गुप्ता का कहना है कि यूपीसीडा ने जमीन ली है। इतनी जानकारी है। एडीए सचिव गरिमा सिंह का कहना है कि वर्ष २०१३ में यूपीसीडा को २३२ हेक्टेअर भूमि बेची गई है। रजिस्ट्री का काम अभी प्रोसेस में है।

एकेआईसी से जुड़ेगा आगरा
अमृतसर, दिल्ली, कोलकाता आद्यौगिक गलियारे में आगरा को जोडऩे की कवायद तेज हो गई है। यूपीसीडा के अधिकारियों ने बताया कि बीते दिनों यूपीसीडा के सीईओ मयूर माहेश्वरी ने एपेक्स मॉनीटरी कमिटी मीटिंग में वित्तमंत्री निर्मला सीतामरण से भी बैठक की है। आगरा प्रोजक्ट को लेकर जल्द ही शुरू करने पर चर्चा भी हो चुकी है। यूपीसीडा के अधिकारियों ने बताया कि ताजमहल के चलते सुप्रीमकोर्ट से भी इंडस्ट्रीज शुरू करने लिए अनुमति मांगी गई है। जल्द ही इस पर सुनवाई होने वाली है। सुप्रीमकोर्ट से हरी झंडी मिलने के बाद आगरा में तेजी से काम शुरू होगा। जो कि तीन वर्षों में पूरा किया जाएगा। आगरा को अमृतसर-कोलकाता इंडस्ट्रीयल कॉरीडोर (एकेआईसी) से जोड़ा जाएगा।

९५० करोड़ का है प्रोजक्ट
यूपीसीडा और भारत सरकार की संस्था नेशनल इंडस्ट्रीज डेवलेपमेंट कॉर्पोरेशन कॉरिडोर (एआईसीडीसी) के साथ मिलकर आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे उद्योग विकसित करेगा। मास्टर प्लान के तहत आगरा में सैकड़ों इनवेस्टर्स भी उद्योग लगाने के लिए आमंत्रित किए जाएंगे। इस प्रोजक्ट में करीब ९५० करोड़ की धनराशि खर्च की जाएगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments