Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraजमैटो की ड्रेस और बैग टांगकर करते थे रेकी, सूने घरों में...

जमैटो की ड्रेस और बैग टांगकर करते थे रेकी, सूने घरों में चोरी की वारदातों को देते थे अंजाम

चोरों के शातिर अंदाज को देख पुलिस भी अचरज में पड़ गई। कोई शक ना करे इसलिए जमैटो की डे्रस पहनकर रेकी करते थे। मगर सीसीटीवी फुटेज से सामने आई उसी ड्रेस के माध्यम से पुलिस ने शातिरों के गैंग को पकड़ा है। कई लाखों की चोरी करने वाला पेशेवर अपराधियों का गैंग बमुश्किल पुलिस के हत्थे चढ़ा है।

सुनील साकेत
आगरा। उत्तर प्रदेश आगरा पुलिस ने पेशेवर चोरों का एक शातिर गैंग पकड़ा है। बेहद शातिर तरीके से गैंग के सदस्य पहले क्षेत्र में रेकी करते थे। इसके बाद सूने मकानों में वारदात को अंजाम देते थे। कोई शक ना करे। इसलिए जमैटो की ड्रेस और कंधे पर बैग टांगकर निकलते थे। पुलिस ने गैंग के सरगना समेत, ६ लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा तीन बाल अपचारी गैंग के साथ मिले थे। उन्हें भी अरेस्ट किया गया है।

डीसीपी सिटी विकास कुमार ने बताया कि सिकंदरा क्षेत्र में लगातार दो मकानों में चोरी हुई थी। जिसमें कई लाखों की ज्वलरी और नगदी लेकर चोर उड़े थे। २० दिन में लगातार दो बड़ी वारदात से स्थानीय पुलिस की भी नींद उड़ी हुई थी। थाना सिकंदरा प्रभारी निरीक्षक आनंद कुमार शाही ने बताया कि पहली चोरी सिकंदरा के आवास विकास सेक्टर १६ में हुई थी। जिसमें करीब २० से २५ लाख की चोरी का आंकलन किया गया था। इसके बाद शास्त्रीपुरम के विवेकानंद नगर में एक घर से ७-८ लाख रुपये की चोरी की हो गई। दोनों चोरियों से शहर भर में हड़कंप का माहौल बना हुआ था। सोमवार को पुलिस ने शातिरों के गैंग को सरगना समेत दबोच लिया है। पुलिस ने चोरों से ३.९९ लाख रुपये और लाखों के सोने, चांदी के जेवरात बरामद किए हैं।

ऐसे पकड़ में आए चोर
थाना सिकंदरा प्रभारी निरीक्षक आनंद कुमार शाही ने बताया चोरों को पकड?ा आसान नहीं था। गैंग के सदस्य कभी निश्चित ठिकानों पर नहीं रहते थे। कभी फुटपाथ पर, रेलवे स्टेशनों पर, कभी पुल के नीचे, यमुना किनारे आदि जगहों पर घूमते और रात बिताते थे। दोनों चोरियों के सीसीटीवी फुटेज उन्होंने चेक किए। जिसमें जमैटो की शर्ट पहने और बैग टांगे तीन लोगों की फुटेज सामने आयी थी। संदिग्ध मानते हुए पुलिस ने अपना मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर दिया था। इसके बाद शातिर गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पकड़े गए गैंग में सरगना महेश उर्फ सलीम, निवासी ताजगंज आगरा, दीपक उर्फ सलीम, कासिम पुत्र कल्लू, स्वर्णकार रवि माहौर, निवासी कोतवाली, जितेंद्र वर्मा निवासी हरीपर्वत को गिरफ्तार किया है।

बच्चों को चोरी देता था ट्रेनिंग
डीसीपी सिटी विकास कुमार ने बताया कि पकड़ा गया गैंग पेशेवर चोरों का है। सरगना महेश उर्फ सलीम पर कई थानों में केस दर्ज हैं। २२ महीनों से आगरा जेल में निरुद्ध था। नशे की हालत में चोरी की वारदातों को अंजाम देता था। पुलिस इंस्पेक्टर आनंद कुमार शाही ने बताया कि सरगना नाबालिकों को चोरी के लिए ट्रेंड करता था। बच्चे हल्के शरीर के होते हैं। संकीर्ण जगहों पर आसानी से घुस जाते थे। उन्हें सूने मकानों में घुसा देता था। चोरी करने के बाद रकम को आपस में बांट लेते थे। सोने चांदी के जेवरों को कासिम के जरिए स्वर्णकारों को बिकवा देता था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments