Thursday, June 13, 2024
HomeUttar PradeshAgraसीएचसी पर लटका था ताला, महिला ने सड़क पर दिया बच्ची...

सीएचसी पर लटका था ताला, महिला ने सड़क पर दिया बच्ची को जन्म

एंबूलेंस सेवा भी नहीं आयी मौके पर काम
सरकारी मशीनरी उड़ा रही हैं योजनाओं का मखौल

आगरा। बेशक सरकार स्वास्थ्य और शिक्षा में करोड़ों रुपये खर्च कर ले, लेकिन मातहत सरकार के मंसूबों पर पानी फेरने में लगे हैं। मेडिकल ऑफिर एयरकंडीशन चैंबरों में बैठे रहते हैं, देहात की स्वास्थ्य व्यवस्थाएं बदहाल हैं। ताजा प्रकरण मलपुरा के सीएचसी का है। गुरुवार एक महिला को प्रसव पीड़ा हुई, उसे सीएचसी पर लेकर पहुंचे तो वहां पर ताला लटका हुआ था। एंबूलेंस के लिए फोन किया तो एंबूलेंस भी नहीं आ सकी। ऐसे में महिला ने सड़क पर ही बच्ची को जन्म दे दिया।

कस्बा निवासी नरेश की पत्नी राखी गर्भवती थी। गुरुवार की शाम को उसे प्रसव पीड़ा हुई। जिसके बाद नरेश राखी को लेकर मलपुरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा। जहां ताला लगा हुआ था। इस पर नरेश ने एंबुलेंस सेवा को फोन लगाया, लेकिन संपर्क नहीं हो सका। प्रसव पीड़ा बढऩे पर वह बाइक से ही पत्नी को स्वास्थ्य केंद्र अकोला ले जा रहे थे। इसी बीच सड़क किनारे बस स्टॉप पर महिला ने सड़क पर ही बेटी को जन्म दिया। नरेश ने स्वास्थ्य विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है। मगर स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्थाओं मखौल उड़ाने वाले लापरवाह अफसरों पर कोई कार्रवाई भी नहीं होती है। जांच की आड़ में जिम्मेदारों के गुनाहों पर पर्दा डाला जाता है।

चादर से ढक लिया
रास्ते में प्रसव देख सड़क किनारे बने मकानों में से महिलाएं निकल आईं। चादर से महिला को ढक लिया। प्रसव के बाद जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित है। मामले में स्वास्थ्य केंद्र अकोला के अधीक्षक डॉ. कृष्णकांत शर्मा ने बताया कि ओपीडी का समय दिन में दो बजे तक रहता है। अस्पताल में एक स्टाफ मौजूद थी, जो खाना खाने के लिए घर गई थी, इसी बीच प्रसव के लिए महिला को लेकर परिजन पहुंचे थे। टीम भेजकर जांच करा ली गई है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments