Thursday, June 13, 2024
HomeUttar PradeshAgraअंजलि हत्याकांड : नाबालिग बेटी का हुआ था शारीरिक शोषण

अंजलि हत्याकांड : नाबालिग बेटी का हुआ था शारीरिक शोषण

पुलिस ने छात्रा को गाजियाबाद से लाकर 164 के बयान कराए
बयान के आधार पर पॉक्सो और शारीरिक शोषण की धाराएं लगी
आगरा। बहुचर्चित अंजली बजाज हत्याकांड में मृतका की नाबालिग बेटी के कोर्ट में बयान दर्ज कराए गए हैं। हत्या की साजिश में शामिल बेटी को गाजियाबाद से यहां लाकर मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया। बता दें कि कारोबारी उदित बजाज की पत्नी अंजली बजाज की हत्या की साजिश में शामिल बेटी गाजियाबाद बाल संप्रेक्षण गृह में बंद है। पुलिस ने अब हत्यारोपितों के साथ बेटी पर भी कानूनी शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पुलिस बेटी को गाजियाबाद लेकर आई। उसे कोर्ट में पेश कर बयान दर्ज कराए गए। शास्त्रीपुरम स्थित भावना अरोमा निवासी अंजली बजाज की सात जून को चाकू से गोदकर हत्या की गई थी। आठ जून को ककरैठा के पास जंगल में उनका शव मिला था। पुलिस ने हत्या के आरोप में कारोबारी की नाबालिग बेटी के प्रेमी प्रखर गुप्ता और उसके दोस्त शीलू को गिरफ्तार करके जेल भेजा था। बेटी पर हत्या की साजिश रचने का आरोप है। बेटी नाबालिग है इसलिए उसे बाल संप्रेक्षण गृह गाजियाबाद भेजा गया था।
पुलिस ने कारोबारी की बेटी को पीड़ित और आरोपित दोनों माना था। आरोपित मां की हत्या की साजिश में शामिल होने पर बनाया था। चूंकि वह नाबालिग है इसलिए उसकी कोई सहमति मायने नहीं रखती। यह जानते हुए आरोपित उसके करीब आया था। उसका शोषण किया था। पुलिस को मोबाइल से इसके साक्ष्य मिले थे।
इंस्पेक्टर सिकंदरा आनंद कुमार साही मुकदमे की विवेचना कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि किशोरी के बयान दर्ज किए गए थे। पुलिस को दिए बयानों के आधार पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ पाक्सो और शरीरिक शोषण की धारा मुकदमे में बढ़ाई थी। किशोरी का मेडिकल कराया गया था। अब उसके कोर्ट में 164 के बयान दर्ज कराए गए हैं। इसके बाद उसे बाल संप्रेक्षण गृह में भेज दिया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments