Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraताजमहल के बगीचे में महिला ने अता की नमाज, नियम तार-तार

ताजमहल के बगीचे में महिला ने अता की नमाज, नियम तार-तार

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है फोटो
जानकारियां जुटाने में लगे हैं अधिकारी

आगरा। ताजमहल पर प्रतिबंधित स्थानों पर नमाज पढऩे की घटनाएं खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। घटनाएं जिम्मेदारों की कार्यशैली पर सवाल उठा रही हैं। गुरुवार को ईद की नमाज़ के बाद दोपहर के वक्त एक महिला द्वारा बगीचे में नमाज पढऩे की तस्वीर सामने आई है। जिम्मेदार मामले की जानकारी न होने की बात कह रहे हैं।

गुरुवार को ईद के अवसर पर ताजमहल की शाही मस्जिद में कोई भी नमाज अता कर सकता था। इसके लिए नमाज के समय ताजमहल में सभी का प्रवेश निशुल्क भी किया गया था। हजारों की संख्या में अकीदतमंदों ने यहां नमाज़ पढ़ी थी। इसके बाद दोपहर के वक्त एक महिला पर्यटक ने ताजमहल के बगीचे में जाकर नमाज़ अता की। नमाज अता करते देख वहां मौजूद किसी व्यक्ति ने उसकी तस्वीर मोबाइल में कैद कर ली। हालांकि प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो जब लोगों ने वीडियो बनाना चाहा तब तक महिला की नमाज़ खत्म हो गई थी और वो वहां से चली गई। शुक्रवार को ताजमहल आम लोगों के लिए बंद है। अधिकारी मामले की जानकारी न होने की बात कह रहे हैं।

पूर्व में भी आ चुके हैं मामले
बता दें की ताजमहल पर ईद और बकरीद के दिन सुबह की नमाज़ कोई भी अता कर सकता है। रमजान में कमेटी के लोग तरावीह की नमाज़ पढ़ सकते हैं और आम दिनों में सिर्फ शुक्रवार को स्थानीय निवासी अपना आधार कार्ड दिखाकर ताजमहल की शाही मस्जिद में दोपहर की नमाज अता कर सकते हैं। नमाज सिर्फ मस्जिद परिसर और भीड़ अधिक होने पर उसके बाहर के स्थान पर पढ़ी जा सकती है। इसके अलावा किसी भी दिन, समय पर कहीं भी नमाज़ नहीं पढ़ी जा सकती है। इसके बाद भी बीते दो वर्षों में कई बार परिसर में नमाज़ अता करने के मामले सामने आ चुके हैं। पर्यटक जानकारी के अभाव में नियम तोड़कर नमाज पढ़कर चले जाते हैं और अगर पकड़ में आते हैं तो उन पर कार्रवाई हो जाती है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments