Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraडेढ़ महीने पहले लगाई इंटरलॉकिंग, बारिश में ही पत्तों की तरह...

डेढ़ महीने पहले लगाई इंटरलॉकिंग, बारिश में ही पत्तों की तरह ढह गई

यमुनापार वार्ड १४ में श्मशान भूमि पर हुआ था निर्माण कार्य
नगर निगम के लाखों के किए काम किसी के काम नहीं आ सके

आगरा। श्मशान घाटों की कायाकल्प के लिहाज से आगरा नगर निगम ने कई श्मशान घाटों की कायाकल्प की है। इसके लिए लाखों करोड़ों खर्चा हुआ है, लेकिन इन कार्यों में गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा गया है। या फिर यूं समझिए कि कमीशनखोरी ने निर्माण कार्यों को खोखला कर दिया है। इसकी बानगी आपको यमुनापार वार्ड १४ में देखने को मिलेगी। यहां हुए लाखों के कार्य पहली बारिश में ही ताश के पत्तों की तरह ढह गए।

यमुनापार वार्ड १४ में मोती महल यमुना किनारे वर्षों पुराना श्मशान घाट है। मार्च-अप्रैल में यहां काम शुरू हुआ। नगर निगम चुनाव के दौरान कंस्ट्रक्शन कंपनी ने निर्माण कार्य कराया। जिसे वर्क ऑर्डर के अनुसार अधूरा छोड़ दिया गया। शुक्रवार को शाम हुई बारिश में पूरा इंटरलॉकिंग फर्श ढह गया। जगह-जगह फर्श में गड्ढे हो गए हैं। मिट्टी का ठीक से भराव भी नहीं किया था। इसके ऊपर ही इंटरलॉकिंग टाइल्स लगा दिए गए। बारिश होने के बाद मिट्टी अपनी जगह पर बैठ गई है और फर्श खोखला हो गया है। इस संबंध में स्थानीय पार्षद का कहना है कि ये कार्य पूर्व पार्षद के कार्यकाल के दौरान हुआ था।

खराब गुणवत्ता से हुआ निर्माण कार्य
श्मशान घाट पर हुए निर्माण कार्य में हद दर्जे की लापरवाही बरती गई है। निगम के अफसरों ने बिना भौतिक सत्यापन के फर्म के बिल भी पास करा दिए हैं। श्मशान घाट पर लगे बीजक में सीमेंट बैंच लगाए जाने की जानकारी अंकित की है, लेकिन एक भी सीमेंट की बैंच नहीं लगाई गई है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि ठेकेदार, विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से खराब गुणवत्ता का काम किया गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि इस बारे में सीएम पोर्टल और नगरायुक्त से शिकायत करेंगे।

वर्क ऑर्डर के अनुसार नहीं हुआ काम
श्मशान घाट के निर्माण कार्य में जो वर्क ऑर्डर पास हुआ था उसके अनुसार कार्य नहीं हुआ है। सीमेंट कुर्सियां नहीं लगाई गई हैं। फर्श के कोने पर पिलर नहीं लगाए गए हैं। सीमेंट बैंच के ऊपर टीन शेड भी डलना था। कई काम छोड़ दिए गए हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि इसकी शिकायत की जाएगी।

खबर मिलते ही मरम्मत करने पहुंचे
शुक्रवार दोपहर को हुई बारिश के दौरान श्मशान घाट का फर्श दरक गया था। इसके अलावा जगह-जगह मिट्टी बैठ जाने से फर्श खोखला हो गया था। इस संबंध में अवर अभियंता आरबी प्रसाद को सूचना दी गई। उन्होंने कंस्ट्रक्शन कंपनी को मरम्मत करने के लिए भेजा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments