Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraसावन मास : यातायात व्यवस्था में किया परिवर्तन, कई प्रतिबंध

सावन मास : यातायात व्यवस्था में किया परिवर्तन, कई प्रतिबंध

पहले सोमवार को लगेगा राजेश्वर महादेव मंदिर पर मेला
कल रात से शहर में प्रवेश नहीं कर सकेंगे भारी वाहन

आगरा। परसों सावन का पहला सोमवार है। पहले सोमवार को राजेश्वर महादेव मंदिर पर परम्परागत मेला लगेगा। इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई है। कल सायंकाल मेले का उद्घाटन होगा। इसके साथ ही मंदिर पर भक्ति का सैलाब उमड़ेगा। पहले सोमवार को शहर के अन्य महादेव मंदिरों पर भक्तों की भीड़ रहेगी। पहले सोमवार को देखते हुए यातायात व्यवस्था में परिवर्तन किया गया है। भारी वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया है। श्रावण मास के पहले सोमवार को शहर में कांवड़ यात्रा और प्रमुख शिव मंदिरों में पूजा-अर्चना, जलाभिषेक के अवसर पर शहर में बाहरी और आंतरिक यातायात व्यवस्था में परिवर्तन किया गया है। यह व्यवस्था नौ जुलाई को शाम चार बजे से 10 जुलाई को कार्यक्रम समाप्ति तक लागू रहेगी। अपर पुलिस उपायुक्त यातायात अरुण चंद ने बताया कि नौ जुलाई की रात 11 बजे से खुलने वाली नो एंट्री जारी रहेगी। शहर में भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध रहेगा। इस अवधि में वाहनों को पूर्व से जारी नो एंट्री पास और अनुमति पत्र निरस्त रहेंगे। इस दौरान यातायात मार्ग परिवर्तन व्यवस्था निम्न रहेगी।
हाथरस से भारी वाहनों को सादाबाद से सिकन्दराराऊ या मथुरा की ओर भेजा जाएगा। मथुरा से राष्ट्रीय राजमार्ग-19 से फिरोजाबाद की तरफ निर्बाध जा सकेगा। इसी तरह फिरोजाबाद से मथुरा की तरफ जाने वाला यातायात भी यथावत चलता रहेगा। फिरोजाबाद से जयपुर जाने वाले भारी वाहन रूनकता से दक्षिणी बाईपास होकर अपने गंतव्य को जाएंगे। अलीगढ़ से आने वाले समस्त वाहन खंदौली चौराहे से मुड़ी चौराहे होते हुये एत्मादपुर से एनएच-19 होकर अपने गन्तव्य को जाएंगे। रामबाग चौराहे से हाथरस की ओर जाने वाले समस्त भारी वाहन रामबाग चौराहे से एनएच.-19 से कुबेरपुर कट से यमुना एक्सप्रेस-वे होकर जाएं। फतेहाबाद रोड से आने वाले भारी वाहन शहर न आकर इनर रिंग रोड से होकर जाएंगे। शमशाबाद की तरफ से आने वाले भारी वाहन एकता पुलिस चौकी से सौ फुटा से इनर रिंग रोड होते हुये तोरा चौकी के सामने निकलकर जाएंगे।
राजेश्वर महादेव मंदिर के अलावा रावली महादेव मंदिर, मनकामेश्वर महादेव मंदिर पर यातायात व्यवस्था के प्रबंध किए गए हैं। यह प्रबंध नौ जुलाई की शाम चार बजे से मेला समाप्ति तक प्रभावी रहेंगे

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments