Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraस्वच्छता सर्वेक्षण फीडबैक में आगरा टॉप पर

स्वच्छता सर्वेक्षण फीडबैक में आगरा टॉप पर

दूसरे नबंर पर गाजियाबाद और तीसरे पर लखनऊ
अब 15 अगस्त तक लिया जाएगा इसका फीडबैक

आगरा। शहर के तमाम इलाकों में भले ही कूड़े-कचरे के ढेर अनचाहे दृश्य पैदा कर रहे हों, पर कागजी खानापूर्ति में तो आगरा स्वच्छता के मामले में प्रदेश में नंबर वन आया है। स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 की रैंकिंग के लिए शहर के लोगों से फीडबैक लिया जा रहा है। आगरा पिछले कई दिनों से यूपी में टॉप पर चल रहा है। दूसरे नंबर गाजियाबाद चल रहा है जबकि तीसरे नंबर पर लखनऊ का फीडबैक मिला है। आवास और शहरी कार्य मंत्रालय ने स्वच्छता सर्वेक्षण- 2023 के लिए फील्ड असेसमेंट आरंभ कर दिया है। आगरा शहर को टॉप पर लाने के लिए आगराइट्स जागरूकता दिखा रहे हैं। नगर निगम ने रैंकिंग में शहर को सबसे ऊपर लाने के लिए ताकत झोंक रहा है। शहर में सूखे और गीले कूड़े निस्तारण के साथ ही कूड़ा उठान आदि बिंदुओं पर जोर दिया जा रहा है। इससे शहर की जनता अच्छा फीडबैक दे रही है। सिटीजन फीडबैक में आगरा यूपी में अभी तक सबसे टॉप पर है। 6 जुलाई तक आगरा से 3856 लोगों ने स्वछच्छता को लेकर फीडबैक दिया है। यह आंकड़े अन्य शहरों के मुकाबले कई गुना ज्यादा हैं। दरअसल स्वच्छता सर्वेक्षण के तहत 1 जुलाई से 15 अगस्त तक फीडबैक लिया जाएगा। फीडबैक के लिए 4 सवाल पूछे जाते हैं कि जिनमें पहला घर-घर से कूड़ा कलेक्शन को लेकर होता है। दूसरे सवाल में सूखा और गीला कूड़े के कलेक्शन को लेकर होता है। तीसरे सवाल में आपके आसपास के सावर्जनिक टॉयलेट के बारे में जानकारी ली जाती है। आखिरी सवाल आपके क्षेत्र सफाई को लेकर पूछा जाता है। इन सभी सवालों के जवाब आपको हां या ना में देने होते हैं। स्वच्छ सर्वेक्षण में 3 कपोनेंट हैं जिनमें ओडीएफ प्लस प्लस, जीएफसी और सर्विस लेवल प्रोग्रेस शामिल हैं। नगर आयुक्त अंकित खंडेलवाल ने शहर की रैंकिंग सुधारने के लिए तैयारी तेज कर दी है। सफाई कार्य की नियमित मॉनीटरिंग हो रही है। साथ ही शहर को स्वच्छ रखने के लिए शहर के लोगों से सहयोग की अपील की जा रही है। केंद्रीय शहरी एवं विकास मंत्रालय ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 की रैकिंग की थी। तब आगरा की स्थित राष्ट्रीय स्तर पर सुधरी थी। स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में आगरा देश में 23वां नंबर पर रहा। जबकि 2021 की रैकिंग में ये 24वें नंबर पर था। वर्ष 2022 में प्रदेश के हिसाब से आगरा छठवें नंबर पर रहा था। जबकि 2021 में तीसरे नंबर पर था। वर्ष 2019 में आगरा 82वें नंबर पर पहुंचा था। केंद्र सरकार के आदेश पर वर्ष 2017 में स्वच्छ सर्वेक्षण प्रतियोगिता शुरू हुई थी। देश में पहली बार हुई प्रतियोगिता में नगर निगम आगरा 282वें नंबर पर रहा था। 2019 में आगरा 82वें नंबर पर पहुंच गया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments