Thursday, June 13, 2024
HomeUttar PradeshAgraरेलवे अधिकारी की पुत्री का विवाद थाने पहुंचा

रेलवे अधिकारी की पुत्री का विवाद थाने पहुंचा

युवती ने लगाया आरोप, नपुंसक है वह
अपनी कमी छुपा दहेज के लिए प्रताड़ना
सात माह पहले हुई थी बैंगलोर में शादी

आगरा। रेलवे अधिकारी की पुत्री का विवाद थाने पहुंच गया है। इस मामले में दहेज प्रताड़ना का आरोप लगाया गया है। सात माह पहले ही सरकारी आवास से युवती की शादी हुई थी।
आगरा रेल मंडल के एक बड़े अधिकारी ने सात माह पहले बेटी की धूमधाम से शादी की थी। बेटी का कन्यादान कर उसके अच्छे दांपत्य जीवन की कामना की, मगर ससुराल जाते ही बेटी के सारे अरमान चकनाचूर हो गए। आरोप है कि पति नपुंसक निकला। पति ने उसके साथ संबंध नहीं बनाए और सामना करने से बचने को सारी रात घर से बाहर रहने लगा। अपनी इज्जत बचाने को उल्टा लड़की के शरीर की बनावट में कमियां निकालकर उससे अभद्रता करने लगा। सास ने कथित रूप से बेटे का चालीस लाख का लोन रेलवे अधिकारी से अदा करवाने के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया। परेशान होकर अधिकारी की बेटी घर वापस आ गई। जब परिवार बचाने को उसकी मां उसे लेकर ससुराल छोड़ने गई तो सास और पति ने दोनों के साथ मारपीट की। पीड़िता की शिकायत पर थाना सदर पुलिस मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई है।
रेल अधिकारी की बेटी काफी पढ़ी लिखी है और बैंगलोर में नौकरी करती है। सात माह पहले उन्होंने आगरा में अपने सरकारी आवास से बेटी की शादी धूमधाम से की थी। बैंगलोर निवासी अंबुज कुमार पुत्र राधा कृष्ण बरात लेकर आया और भव्य आयोजन के बाद अधिकारी की बेटी को विदा कराकर ले गया। अधिकारी की बेटी का आरोप है कि शादी के बाद पति उससे दूरी बनाकर रखने लगा। संबंध बनाना तो दूर वो रात भर घर ही नहीं आता था। जब दोनों में बात हुई तो वो पीड़िता के शरीर की बनावट अच्छी न होने का ताना देने लगा। कुछ ही दिनों में तानों और अत्याचार का सिलसिला क्रूरता की हद तक पहुंच गया। इसी बीच सास और नंद पति के द्वारा लिए 40 लाख के लोन को अधिकारी पिता से चुकता करवाने का दबाव बनाने लगे। घर के खर्च भी पीड़िता को अपनी तनख्वाह से चलाने पड़ रहे थे। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि बीती 12 मार्च को पति और ससुरालियों के अत्याचारों से परेशान होकर वो आगरा वापस आ गई। काफी समझाने पर अप्रैल में वो अपनी मां के साथ ससुराल गई तो वहां ससुराल वालों ने काफी अभद्रता की और पीड़िता के जेवर और सारा कैश रुपया छीन लिया। मकान मालिक को घर खाली करवाने को लेटर दे दिया। परेशान होकर वो फिर वापस आगरा आ गई और बैंगलोर पुलिस को मेल के माध्यम से शिकायत की। इसी बीच जरूरत पड़ने पर उसे अपने शैक्षिक दस्तावेजों को लेने के लिए मां के साथ बैंगलोर गई तो वहां फिर उसके साथ मारपीट की गई। इसके बाद वो अपना सामान लेकर अलग किराए के घर में रह रही है। पीड़िता का कहना है कि शादी में हुई इस तरह की धोखाधड़ी और दहेज प्रताड़ना से उसका जीवन खराब हो गया है। पीड़िता ने आगरा में थाना सदर पुलिस को शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई कर रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments