Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraबीजेपी विधायकों का ऑडियो लीक, जिलाध्यक्ष चुने जाने को लेकर बना रहे...

बीजेपी विधायकों का ऑडियो लीक, जिलाध्यक्ष चुने जाने को लेकर बना रहे थे रणनीति

आगरा। सोशल मीडिया पर सोमवार को एक ऑडियो तेजी से हो रहा है। इस ऑडियो को बीजेपी विधायकों का बताया जा रहा है। जिसमें वे आगरा के जिलाध्यक्ष चुने जाने पर मंथन कर रहे थे। साथ ही इस बात पर भी जोर दे रहे थे कि अगर चार विधायक एक स्वर में बोलेंगे तो उनकी बात क्यों नहीं सुनी जाएगी, लेकिन जनप्रनिधियों द्वारा कही गईं इन बातों से प्रतीत होता है कि संगठन को ये लोग कितना भाव देते हैं। हालांकि एनबीटी इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।

बीजेपी के जिलाध्यक्ष और महानगर अध्यक्ष का चयन होना है। इसके लिए पर्यवेक्षक तैनात कर दिए हैं। संगठन पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट के आधार पर ही दोनों का चयन करेगा। सोमवार को वायरल हुए ऑडियो ने शहर में सनसनी मचा दी। एक विधायक की आवाज बताते हुए सुना जा रहा है कि वे कह रहे है हमारा जिलाध्यक्ष क्यों नहीं बनेगा। अगर चार विधायक किसी बात को एकसाथ कहेंगे तो उनकी बात क्यों नहीं मानी जाएगी।
कुशवाह, जाट, ठाकुर या माहौर
आपस में बातचीत करते हुए एक विधायक चार जातियों के नाम बोलकर कहते हैं कि जिलाध्यक्ष कुशवाह, ठाकुर, जाट या माहौर में से होना चाहिए। मतलब अनुसूचित जाति का हो तो माहौर, पिछड़ी जाति से हो तो जाट या कुशवाह और अगर सामान्य से बने तो ठाकुर जाति से होना चाहिए। इस रणनीति पर जनप्रतिनिधि आपस में चर्चा कर रहे हैं।

बी संगठन की आहट
जनसंघ के समय के कार्यकर्ता का कहना है कि पक्षपात के आधार पर संगठन के महत्वपूर्ण पदों पर अपात्रों को काबिज किया जा रहा है। इससे संगठन कमजोर हो सकता है। दल बदलुओं को चुनाव जिताने का यही नतीजा है। अब बीजेपी कांग्रेस जैसी हो जाएगी। दल बदलू चुनाव जीतकर आएंगे तो संगठन को जूते की नोंक पर ही रखेंगे। आगामी समय में मिशनरी कार्यकर्ता घर बैठ सकते हैं। जनप्रतिनिधि निरंकुश हो रहे हैं। वे संगठन को कमजोर करने के लिए बी संगठन खड़ा करने चले हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments