Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraशाहगंज में शिव मंदिर की छत गिरी, एक की मौत

शाहगंज में शिव मंदिर की छत गिरी, एक की मौत

10-12 श्रद्धालु मलबे में दबे, मौके पर मचा चीख-पुकार

आगरा। शाहगंज में आज सुबह शिव मंदिर की छत गिर गई। हादसे में एक महिला श्रद्धालु की मौत हो गई। जबकि मलबे में 10 से 12 श्रद्धालु दब गए। सूचना पर पुलिस और रेस्क्यू की टीम मौके पर पहुंचीं। मलबे से 7 लोगों को अब तक निकाला जा चुका है। इनमें एक की हालत गंभीर है। कुछ और लोगों के दबे होने की आंशका है। ऐसे में रेस्क्यू टीम मलबा हटा रही थी। हादसा शाहगंज क्षेत्र में राधे वाली गली के शिव मंदिर का है। सावन का सोमवार होने के चलते मंदिर में कांवड़ चढ़ाई जा रही थी। सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ थी। मंदिर में हर हर महादेव के जयकारे लग रहे थे। तभी अचानक मंदिर परिसर की छत गिर गई। जयकारों के बीच लोगों के चीखने की आवाज आने लगी। मंदिर में भगदड़ मच गई। चीख पुकार सुनकर आस-पड़ोस के लोग आए। मलबे के नीचे ज्यादातर महिलाएं दब गई थीं। स्थानीय लोगों ने उन्हें निकाला।
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मोहल्ले के कुछ युवक कांवड़ लेकर आए थे। सुबह 7 बजे के करीब मंदिर में कांवड़ चढ़ाई गई। इस दौरान आस-पास की महिलाएं मंदिर में मौजूद थीं। कांवड़ चढ़ाने के बाद प्रसाद वितरण हो रहा था। अधिकांश महिलाएं जा चुकी थीं। करीब 10-12 महिला और युवतियां मंदिर के बरामदे में खड़ी थीं। तभी अचानक छज्जानुमा छत गिर पड़ी। सभी महिलाएं दब गई। चीख पुकार मच गई।

बारिश के चलते हुआ हादसा
यह शिव मंदिर काफी पुराना है। वहीं, आगरा में पिछले कई दिनों से बारिश हो रही है। इसके चलते, कच्ची छत कमजोर हो गई थी और वह गिर पड़ी। पुलिस के मुताबिक मलबे से निकाले गए सभी लोगों को अस्पताल ले जाया गया है। वहां एक महिला ज्योति पत्नी लक्ष्मण की मौत हो गई है। वहीं, सोमवती नाम की महिला की हालत गंभीर है। वहीं घायलों में ओमवती, रानी, पूनम, ओमवती, केशू, मिथिलेश घायल हो गए।
हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस- प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी पहुंच गए थे। उन्होंने हादसे के कारणों की पड़ताल की। जिस समय कांवड़ चढ़ रही थी, वहीं भीड़ अधिक थी। मंदिर परिसर छोटा है। मंदिर की छत भी जीर्ण-शीर्ण हो चुकी थी। इसलिए, यह हादसा हुआ। फिलहाल इस पूरी घटना को लेकर मोहल्ले के लोगों में आक्रोश है। उनका कहना है कि मंदिर के रेनोवेशन पर ध्यान नहीं दिया गया। वरना, यह हादसा नहीं होता।

कहीं यह वजह तो नहीं
मंदिर परिसर में छत गिरने की वजह कुछ और भी बताई जा रही है। यह बात सत्य है कि बरामदे की छत काफी जर्जर थी, लेकिन यहां छेड़छाड़ भी की गई थी। कुछ जानकार लोगों ने बताया कि जर्जर छत को थामे रखने के लिए छत के नीचे एक बल्ली लगी हुई थी, लेकिन दबंग परिवार ने उस बल्ली को हटा दिया था जिसके चलते बरामदा गिर गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments