Thursday, June 13, 2024
HomeUttar PradeshAgraचलती ट्रेन के कमोड में फंसा बच्ची का पैर

चलती ट्रेन के कमोड में फंसा बच्ची का पैर

20 किमी ट्रेन दौड़ती रही, निकालने को टॉयलेट बॉक्स खोलना पड़ा
घंटे भर तक दर्द से चीखती-चिल्लाती रही चार साल की बच्ची

आगरा। बरौनी-बांद्रा अवध एक्सप्रेस में 4 साल की बच्ची का पैर टॉयलेट के कमोड में फंस गया। ट्रेन पटरियों पर दौड़ती रही। बच्ची दर्द से चिल्लाती रही। बच्ची के मां-पिता और यात्रियों ने पैर को निकालने की हर कोशिश की, मगर निकाल नहीं पाए। इसके बाद 20 किमी तक मासूम का पैर ऐसे ही कमोड में फंसा रहा। ट्रेन चलती रही और वह दर्द से रोती रही। इसी बीच, ट्रेन में मौजूद किसी यात्री ने रेलवे हेल्पलाइन पर फोन करके घटना की सूचना दी। ट्रेन 30 मिनट बाद फतेहपुर सीकरी स्टेशन पहुंची। यहां आधे घंटे की मशक्कत के बाद टेक्निकल टीम ने टॉयलेट बॉक्स खोलकर बच्ची का पैर निकाला। करीब 1 घंटे तक टॉयलेट में फंसने के चलते बच्ची के पैर में गंभीर चोट आ गई। बच्ची का पैर फंसने से उसमें घाव हो गया। समय पर पहुंची एम्बुलेंस और स्वास्थ्य कर्मियों ने उसका इलाज किया।
बिहार के सीतामढ़ी के रहने वाले मोहम्मद अली अपनी पत्नी और 4 साल की बेटी साइना के साथ बरौनी-बांद्रा अवध एक्सप्रेस में कोच बी-6 में सफर कर रहे थे। सुबह ट्रेन आगरा फोर्ट स्टेशन से रवाना हुई। ट्रेन के ईदगाह स्टेशन पार करने के बाद बच्ची को टॉयलेट लगी। बच्ची की मां उसे टॉयलेट में ले गई। इसी बीच, मां के मोबाइल पर किसी की कॉल आ गई। वह बात करने में बिजी हो गई। मां का ध्यान बच्ची से हट गया। ट्रेन स्पीड में थी, ऐसे में हिलने के चलते बच्ची का पैर कमोड में फंस गया। बच्ची रोने लगी। पहले मां ने उसका पैर निकालने का कोशिश की। लेकिन पैर नहीं निकल सका। बच्ची की मां ने शोर मचाया। अपने पति को बुलाया। अन्य यात्री भी इकट्ठा हो गए। फिर सभी ने बच्ची का पैर निकालने की हर कोशिश की, लेकिन पैर नहीं निकल सका। कमोड में पैर फंसने के चलते बच्ची दर्द से चीख रही थी। अगला स्टेशन करीब 24 किमी दूर फतेहपुर सीकरी था। ट्रेन भी अपनी रफ्तार में दौड़ रही थी। ऐसे में माता-पिता को अनहोनी का डर सता रहा था। इसी बीच किसी यात्री ने रेलवे की हेल्पलाइन पर मदद मांगी। अगले स्टेशन पर मदद के लिए कहा गया। आगरा से फतेहपुर सीकरी पहुंची टीम ने बॉक्स खोला। करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद बॉक्स खोलकर बच्ची के पैर को बाहर निकाला।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments