Tuesday, June 18, 2024
HomeUttar PradeshAgraवर्दी पर दाग: साथी को बचाने के लिए धमकाने पहुंचे थे...

वर्दी पर दाग: साथी को बचाने के लिए धमकाने पहुंचे थे दो दरोगा

सैकड़ों ग्रामीणों ने घेरा थाना, दोनों दरोगाओं व सिपाही के खिलाफ कार्रवाई की मांग
किशोरी के बयान, धमकाता था दरोगा, पिता को फंसाने की धमकी देता था आरोपी

आगरा। किशोरी के घर में आपत्तिजनक स्थिति में पकड़े गए पुलिस के दरोगा के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है। इधर इस घटना को लेकर ग्रामीणों में भारी रोष है। उन्होें सोमवार को सैंकड़ों की संख्या में एकत्रित होकर थाना बरहन का घेराव कर लिया। उनका कहना था कि आरोपी दरोगा को किशोरी के घर तक छोड़कर आने वाले सिपाही और ग्रामीणों को धमकाने वाले दो अन्य दरोगाओं के खिलाफ भी कार्रवाई हो। आरोपी दरोगा को गत दिवस ही निलंबित कर दिया गया था।
थाना बरहन क्षेत्र के गांव तेहिया में रविवार देर रात थाने पर तैनात दरोगा संदीप कुमार को एक ग्रामीण के घर से आपत्तिजनक हालत में दबोच लिया। ग्रामीणों का आरोप है कि दरोगा संदीप कुमार घर में कूद कर लड़की से छेड़छाड़ कर रहा था। उसके कपड़े फाड़ दिए थे। खुद भी नग्न हो गया था। ग्रामीणों ने उसे रंगे हाथ पकड़ने के बाद एक पोल से बांधकर पीटा था। इस दौरान दरोगा का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस कमिश्नर डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल प्रभाव से आरोपी दारोगा को निलंबित कर दिया था। इस घटना के बाद पुलिस कमिश्नर के निर्देश पर दरोगा संदीप कुमार के खिलाफ बरहन थाने में धारा 376, 506, 452 धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया गया।
इधर इस घटना को लेकर ग्रामीणों का गुस्सा सांतवे आसमान पर है। उन्होंने थाने का घेराव कर लिया। रास्तों को रोक दिया गया। दरोगा संदीप कुमार को नशे की हालत में एक पुलिसकर्मी किशोरी के यहां छोड़ गया था। दरोगा पूछताछ के नाम पर घर में घुस आया था। परिजनों और ग्रामीणों ने दरोगा को पेड़ से बांधकर पीटा था। यह खबर थाने के दो दरोगा अंकित कुमार और पंतजलि सैनी को मिल गई थी। ग्रामीणों का आरोप है कि वे मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को धमकाने लगे। उन्हें गंभीर मामले में गिरफ्तार करने की धमकी दे रहे थे। इसी को लेकर ग्रामीणों में गुस्सा है। उनका कहना था कि दोनों दरोगाओं और नशेबाज दरोगा संदीप को किशोरी के घर छोड़कर आने वाले सिपाही के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज हो।
थाने के घेराव की खबर मिलते ही एत्मादपुर, बरहन और खंदौली थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। मौके पर मौजूद एसीपी और डीसीपी ग्रामीणों को समझाने के प्रयास कर रहे थे।
इधर किशोरी ने पूछताछ में आरोप लगाया कि दरोगा संदीप उसे काफी दिनों से परेशान कर रहा था। वह उसके पिता को जेल भेजने की धमकी देता था। रविवार को भी वह जबरन घर में घुस आया और उसके कपड़े फाड़ दिए। उसने विरोध करते हुए चीखना चिल्लाना शुरू कर दिया, जिससे उसकी आवाज सुनकर परिवरीजन एवं ग्रामीण इकट्ठे हो गए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments