Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraपंचायत में नहीं निपटा था कपड़ा व्यवसाई के परिवार का विवाद

पंचायत में नहीं निपटा था कपड़ा व्यवसाई के परिवार का विवाद

अभद्रता और धमकियों से खिन्न होकर ली पुलिस की शरण
बेटे-बहू की वजह से डिप्रेशन में आ गए शोरूम के संचालक

आगरा। जमीन से उठने के लिए कड़ा संघर्ष किया। छोटी सी कपड़े की दुकान को शोरूम में बदला। कपड़ा मंदिर को आगरा का ब्रांड बनाया लेकिन परिवार का सकून नहीं मिला। कपडा व्यवसाई ने बेटे-बहू की हरकतों की वजह से पुलिस की शरण ली है। जानकार सूत्र बताते हैं कि कपड़ा व्यवसाई अवसाद में आ गए हैं।
बल्केश्वर और बोदला में जाने माने कपड़ा शोरूम ‘कपड़ा मंदिर’ के संचालक ने अपने बड़े बेटे के खिलाफ केस दर्ज कराया है। आरोप है कि बेटे ने संपत्ति नाम करने के लिए उनके संग अभद्रता की। इतना ही नहीं खून-खराबा करने तक की धमकी दे डाली। परिवार के सूत्रों ने बताया कि पिछले कई माह से संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा है। पंचायतें हुईं पर बात नहीं बनी। उल्टा पिछले दिनों हुई पंचायत में शोरूम संचालक सुरेश बरेजा से उनके बड़े बेटे मोहित और उसकी पत्नी ने बुरी तरह से अभद्रता कर डाली। बेटे के साढ़ू कमल ढींगरा, साली मीनू ढींगरा, ध्रुव ढींगरा ने बुरी तरह से डाराया – धमकाया। इससे आहत होकर 75 वर्षीय सुरेश बरेजा ने थाना कमला नगर में मुकदमा पंजीकृत कराया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments