Sunday, June 23, 2024
HomeUttar PradeshAgraमिसाल : डॉक्टर ने हाईवे पर भी निभाई अपनी ड्यूटी

मिसाल : डॉक्टर ने हाईवे पर भी निभाई अपनी ड्यूटी

सड़क पार कर रही महिला का हुआ एक्सीडेंट
अपने खर्चे पर शुरू करवाया घायल का इलाज

आगरा। एक डॉक्टर ने अनूठी मिसाल पेश की। हादसे में घायल महिला का अपने खर्चे से इलाज कराया। डॉक्टर सिर्फ हॉस्पिटल या अपने नर्सिंग होम में ही मरीजों का इलाज नहीं करते। बल्कि हर जगह अपनी ड्यूटी निभाते हैं।
सिकंदरा हाईवे पर जगदीशपुरा की एक महिला अपने पति और तीन बच्चों के साथ रेनबो हॉस्पिटल में भर्ती अपने एक रिश्तेदार को देखने जा रही थी। हाईवे पर डिवाइडर में लगी रेलिंग को लोगों ने अपनी सुविधा के लिए कई जगह से काट लिया है। हाईवे पर ही कई अस्पताल हैं, जिनके पास इसी तरह के कट हैं। इन्हीं एक कट में से महिला हॉस्पिटल में जाने के लिए हाईवे पर पहुंची। इतनी देर में तेजी से आती एक बाइक से महिला की टक्कर हुई और वो घायल हो गई। हाईवे पर ही अपनी गाड़ी से जा रहे डॉ. अनुपम गुप्ता ने यह घटना देखी। पास जाकर महिला को देखा तो उसका पैर बुरी तरह से जख्मी था। उन्होंने तुरंत प्राथमिक उपचार दिया। अपना रूमाल बांधा। महिला को अपनी कार से लेकर आकाश आॅर्थो सिटी पहुंचे। अपने खर्चे पर महिला का इलाज शुरू करवाया।

खतरनाक हैं रेलिंग काट बनाए रास्ते
सिकंदरा से लेकर वॉटर वर्क्स तक कई जगह लोगों ने अपनी सुविधा के लिए डिवाइडर पर लगी रेलिंग को काट लिया है। गुरुद्वारा गुरु का ताल पर एक कट है। उसके बाद सीधा दूसरा कट सिकंदरा पर है। कामायनी वाले कट को बंद कर दिया गया है। लोग घूमकर जाने की बजाय इन शॉर्टकट को अपनाते हैं। इससे कई बार हादसे हो चुके हैं। एनएचएआई न तो इन कटों को बंद कराती हैं और ना ही कोई कार्यवाही करती है।

एनएचएआई बराबर दोषी
डॉ. अनुपम गुप्ता ने कहा कि जितने लोग इन कटों से निकलकर अपनी जान जोखिम में डालते हैं, उनके साथ साथ एनएचएआई भी बराबर का दोषी है। एनएचएआई पर भी कार्यवाही होनी चाहिए। उन्होंने लोगों से अनुरोध किया है कि शॉर्ट कट से बचें और अपनी जिंदगी को जोखिम में न डालें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments