Saturday, June 22, 2024
HomeUttar PradeshAgraतो क्या पीछा छुड़ाने के लिए कर दी गर्लफ्रेंड की हत्या?

तो क्या पीछा छुड़ाने के लिए कर दी गर्लफ्रेंड की हत्या?

किसी ने नहीं देखा उसे फांसी पर लटके हुए
वह कब पहुंची सिपाही के कमरे पर,नहीं पता
पुलिसकर्मी बेकसूर तो क्यों भागा शव छोड़कर

आगरा। बेलनगंज (छत्ता) क्षेत्र में सिपाही के कमरे में कुछ तो ऐसा हुआ था, जिसकी वजह से यहां गुपचुप तरीके से आकर ठहरी युवती मृत अवस्था में मिली। मामले में कई ऐसे सवाल हैं, जिनका जवाब पुलिस के पास नहीं है। युवती को फंदे पर लटके हुए किसी ने नहीं देखा? यहां तक कि वह कब पुलिसकर्मी के कमरे में आई, किसी को इसकी जानकारी नहीं है। सबसे अहम सवाल यह है कि अगर पुलिसकर्मी बेकसूर है तो वह शव को छोड़कर क्यों फरार हो गया?
पुलिस को जानकारी मिली है कि पुलिसकर्मी राघवेंद्र अपनी गर्लफ्रेंड से पीछा छुड़ाना चाहता था। परिजनों का आरोप है कि फोन करके ही उसने अपनी दोस्त शोभा को कमरे पर बुलाया था। इसके लिए उसने बहाना बनाया था। परिजनों का आरोप है कि शोभा की योजना बनाकर हत्या की गई है। वे आरोपी सिपाही के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराएंगे। युवती के पिता ने पुलिस को बताया कि पुत्री करीब चार वर्ष से चिकित्सा के पेशे में है। एक महीने पहले ही वह गुरुग्राम के अस्पताल में नौकरी करने गई थी। पुत्री ने परिवार के लोगों को बताया था कि वह आरक्षी राघवेंद्र से शादी करना चाहती है। आरक्षी ने उससे शादी करने का वादा किया है। आरक्षी राघवेंद्र इसी वर्ष रक्षाबंधन पर हमीरपुर उनके घर पर भी आया था। इधर एक महीने से वह शादी करने से इन्कार करने लगा था। शोभा से पीछा छुड़़ाना चाहता था।
सिपाही राघवेंद्र सिंह मूल रूप से झांसी का है। वह बेलनगंज स्थित एसीपी छत्ता पेशी कार्यालय के पास ही कमरा किराये पर लेकर रह रहा था। वह वर्ष 2019 बैच का सिपाही है। एसीपी आरके सिंह ने बताया कि शोभा हमीरपुर के थाना जरिया स्थित जमखरी की रहने वाली थी।
जांच में पता चला कि शोभा से सिपाही की जान पहचान पुरानी थी। सिपाही शुक्रवार सुबह 9:30 बजे कार्यालय आया था। 15 मिनट बाद कमरे पर जाने की कहकर चला गया। बाद में उसने साथी सिपाही आकाश को फोन किया। बताया कि उसकी दोस्त कमरे पर रुकी थी। उसने फांसी लगा ली है। वह उसे गोयल हॉस्पिटल लेकर आया है। डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया है।
युवती की मौत की सूचना पर थाना एत्माद्दौला पुलिस पहुंच गई। मगर, अस्पताल में सिपाही नहीं मिला। वह भाग चुका था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। बाद में सिपाही के कमरे की तलाश ली गई। वहां एक तार मिला। इससे आत्महत्या की आशंका जताई जा रही है। फॉरेंसिक टीम ने साक्ष्य संकलन किया। सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ।
डीसीपी सिटी सूरज राय के अनुसार मामले की गहन पड़ताल की जा रही है। फरार सिपाही को पुलिस खोज रही है। मृतका के परिजनों की तहरीर पर कार्रवाई की जाएगी। डॉक्टर के पैनल से शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। परिजनों को भी मृतका के बारे में कुछ अधिक जानकारी नहीं थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments