Saturday, June 22, 2024
HomeUttar PradeshAgraआम जनजीवन पर शीत का झपट्टा

आम जनजीवन पर शीत का झपट्टा

89 वर्ष बाद हाड़ कंपाने वाली ठंड, सूबे में सबसे ठंडा दिन रहा
मंगलवार को रिकार्ड किया गया था 13 डिग्री सेल्सियस तापमान
अगले चार दिन तक इसी तरह मौसम ढहाता रहेगा भारी कहर

आगरा। आम जनजीवन पर शीत ने ऐसा झपट्टा मारा है कि लोग घरों में कैद होगए। नए वर्ष की शुरूआत से हाड़ कंपाने वाली ठंड ने आम जनजीवन को प्रभावित कर रखा है। सुबह कोहरे की चादर में ढकी रही। लोग ठंड से कांपते दिखे। इससे पहले मंगलवार को 13.1 डिग्री सेल्सियस के अधिकतम तापमान के साथ सूबे में आगरा सबसे ठंडा रहा। मौसम विभाग के अनुसार 89 वर्ष पहले इस तरह की ठंड पड़ी थी।
ठंडी हवाओं के साथ गलन के चलते गर्माहट के लिए दिन में भी रूम हीटर और ब्लोअर चलाने पड़े। तापमान में गिरावट के साथ ही 6 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चल रही हवाओं ने शीत का प्रकोप और बढ़ा दिया। कोल्ड-डे कंडीशन लगातार जारी है।
मंगलवार के बाद आज भी शीत लहर से लोग बेहाल थे। दिन भर धुंध छाई रही थी। आज भी यही स्थिति है। बादलों के चलते सूरज की किरणें लोगों को राहत नहीं दे पाईं। घरों में रजाई में दुबके लोग भी ठंड महसूस कर रहे थे और गर्माहट के लिए ब्लोअर और रूम हीटर का सहारा लेना पड़ा। कृषि विज्ञान केंद्र बिचपुरी के मौसम विज्ञानी डॉ. संदीप सिंह के अनुसार सर्दी से फिलहाल राहत के संकेत नहीं हैं।

सबसे ठंडा आगरा
ताज नगरी प्रदेश में सबसे ठंडी रही। पिछले 24 घंटे में अधिकतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 5.7 डिग्री सेल्सियस रहा। शीत लहर का सितम झेल रहे शहरों में आगरा के अलावा अलीगढ़, झांसी, बुलंद शहर, मुजफ्फर नगर आदि हैं।

बच्चों को बड़ी राहत
12वीं तक के स्कूलों के बंद होने से बच्चों ने बड़ी राहत महसस की गई। जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने जिले के कक्षा 1 से लेकर 12 वीं तक के सभी स्कूलों का छह जनवरी तक अवकाश घोषित कर दिया है। इस दौरान किसी भी बोर्ड और माध्यम का स्कूल नहीं खुलेगा।

 

अलाव का सहारा
जगह-जगह अलाव का सहारा लेकर लोग शीत लहर से बचने के प्रयास कर रहे हैं। प्रशासन ने एक दर्जन स्थानों पर अलाव जलवाए हैं।
जिला प्रशासन ने अलाव जलाने के साथ कंबल का वितरण भी शुरू करा दिया है। तहसीलदार सदर रजनीश वाजपेई के अनुसार सदर तहसील क्षेत्र में 12 स्थानों पर अलाव जलाने की व्यवस्था की गई। अब तक 1400 कंबल का वितरण भी कराया जा चुका है। सर्दी को देखते हुए शीघ्र ही अन्य स्थानों पर भी अलाव जलवाने के साथ कंबल वितरण कराया जाएगा।

सर्दी बिगाड़ रही सेहत
प्रचंड शीत लहर लोगों कीसेहत को खराब कर रही है। बड़ी संख्या में लोग कोल्ड स्ट्रोक का शिकार हो रहे हैं। अंदाज इसी से लगाया जा सकता है कि एसएन अस्पताल की ओपीडी में 2200 से ज्यादा मरीज पहुंचे। सबसे ज्यादा मरीज खांसी और जुकान के हैं। सर्दी-जुकाम के अलावा हड्डियों की शिकायतों के सबसे ज्यादा मरीज पहुंच रहे हैं। मंगलवार को कोल्ड डे कंडीशन के हालात रहे।
बीच भी 2200 से ज्यादा मरीज ओपीडी में पहुंचे।

सांस और टीबी मरीज बढ़े
सर्दी की वजह से सांस और टीबी रोगियों की दिक्कत बढ़ गई है। लगातार खांसने या तेज खांसने से उनके फेफड़ों में छेद हो जा रहा है। एसएन मेडिकल कॉलेज के टीबी एंड चेस्ट डिपार्टमेंट में ऐसे 12 मरीज भर्ती कराए गए हैं। इनमें तीन की हालत गंभीर है। एचओडी डॉ. गजेंद्र विक्रम सिंह के अनुसार ओपीडी में 190 मरीज पहुंचे। मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

हवाई सेवाएं भी बंद हुईं

कोहरे के कारण मुंबई की फ्लाइट एक घंटा देरी से पहुंची। आगरा जयपुर फ्लाइट कैंसिल कर दी गई है। मंगलवार को अहमदाबाद-आगरा-जयपुर और जयपुर-आगरा-अहमदाबाद फ्लाइट कोहरे के कारण कैंसिल हो गई। अहमदाबाद से आगरा फ्लाइट 12:35 पर पहुंचती है। जयपुर से आगरा 3:05 पर आती है। इसके अलावा मुंबई- आगरा-मुंबई एक घंटा देरी से पहुंची। मुंबई से आने वाली फ्लाइट का समय दोपहर 1:10 का है, जो दो बजे के बाद पहुंची। लखनऊ-आगरा फ्लाइट समय से पहुंची। खेरिया एयरपोर्ट डायरेक्टर नीरज श्रीवास्तव के अनुसार कोहरे के कारण फ्लाइट कैंसिल हुई है।

ट्रेनों की रफ्तार भी थमी
कोहरे के कारण ट्रेनों की रफ्तार भी थम गई है। सोमवार और मंगलवार को 30 से अधिक ट्रेनें 20-20 घंटे की देरी से पहुंचीं। सचखंड एक्सप्रेस 22 घंटे देरी से पहुंची। नई दिल्ली- तेलंगाना एक्सप्रेस 16 घंटे, शताब्दी 10 घंटे, शान-ए भोपाल एक्सप्रेस 3 घंटे की देरी से पहुंचीं। ठंड में यात्री स्टेशनों पर परेशान हो गए। हालांकि रेलवे ने हेल्प डेस्क भी शुरू कर दी है। रेलवे पीआरओ प्रशस्ति श्रीवास्तव के अनुसार यात्रियों से अनुरोध किया जा रहा है कि वे लाइव लोकेशन देख कर ही स्टेशन पहुंचे। कोहरे के कारण ट्रेनें लेट हो रही हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments